Home / Cricket / भारत का इंग्लैंड दौरा 2018 : गौरव की लड़ाई

भारत का इंग्लैंड दौरा 2018 : गौरव की लड़ाई

July 28, 2018


भारत का इंग्लैंड दौरा 2018 : गौरव की लड़ाई

तीसरे टेस्ट मैच का चौथा दिनः पहले दो मैच हारने के बाद भारत ने तीसरे टेस्ट मैच जीतकर श्रृंखला में मजबूती के साथ वापसी कर ली है। तीसरे टेस्ट मैच में जो रूट ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया| मैच के शुरूआती घंटो में  भारतीय बल्लेबाजों ने आश्चर्यजनक रूप से अच्छी बल्लेबाजी की। आपको मैच के दौरान इंग्लिश मौसम में, पहला सत्र बादलो से घिरा हुआ और अंधकारमय देखने को मिल सकता है और अगला सत्र में जमीन पे धूप खिली हुई देखने को मिल सकती है।

भारतीय कप्तान विराट कोहली सीरीज में अपना दूसरा शतक लगाने से चूक गए जब उन्हें आदिल रशीद ने 97 रन पर आउट कर दिया।रहाणे जबरदस्त वापसी करते हुए 81 रन बनाकर आउट हुए। उनके इस योगदान से भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाये। भारतीय पारी का पहला सत्र अंधेरे में समाप्त हुआ जिसने गेंदबाजी को थोड़ा आसान बना दिया।

भारतीय गेंदबाजों ने परिस्थित का फायदा उठाते इंग्लैंड को एक लंबे मध्य सत्र के अंदर 161 रनों पर रोक दिया और इस प्रकार दुसरे दिन भारत को 168 रनों की बढ़त हासिल हुई। दूसरी पारी में भारतीय खिलाडियों ने धीरे-धीरे लेकिन ठोस बल्लेबाजी की और इस बार कोहली ने अपना शतक पूरा कर लिया। भारत ने तीसरे टेस्ट मैंच के आखिरी घण्टे में 7 विकेट पर 352 रन पर अपनी पारी घोषित कर दी और इंग्लैण्ड को जीतने के लिए 521 रनों का एक असंभव सा लक्ष्य दिया।

हार्दिक पांड्या ने दूसरी पारी में पचास रन बनाए और साथ ही गेंदबाजी करते हुए पांच विकेट लिए। भारत श्रृंखला को दिलचस्प बनाने के लिए खेले जा रहें तीसरे टेस्ट मैच को चौथे दिन ही जीतकर सीरीज को 2-1 के स्कोर पर लाने के लिए इंग्लैण्ड पर दबाव बनाएगा। अगला टेस्ट मैच साउथेम्प्टन में 30 अगस्त को खेला जायेगा।

दूसरे टेस्ट मैच का पहला दिन: दूसरे टेस्ट मैच का पहला दिन वास्तव में दोनों टीमों के लिए निराशाजनक रहा है। गुरुवार को लगातार बारिश के चलते भारत और इंग्लैंड के मध्य लॉर्ड्स में होने वाला टेस्ट मैच नहीं हो पाया। बिना एक गेंद किये ही 4:50 बजे मैच को रोक दिया गया। अब इस बर्बाद हुए समय की भरपाई के लिए शेष चार दिनों का खेल 96 ओवरों का खेला जायेगा|

पहले टेस्ट मैच का चौथा दिनअंततः इंग्लैंड टीमने भारतीय टीम के आखिरी विकेट हार्दिक पांड्या को आउट करने के बाद भारत के खिलाफ खेला जा रहा पहला टेस्ट मैच  31 रनों से जीत लिया। इंग्लैंड ने पूरी भारतीय टीम को 162/9 रनों के स्कोर पर आउट करके वापस पवेलियन भेज दिया।आज सुबह के मैच में इंग्लैंड की तरफ से स्टोक्स ने विराट कोहली का महत्वपूर्ण विकेट लिया और इंग्लैंड टीम के लिए प्रमुख खिलाडी बन कर उभरे|

पहले टेस्ट मैच का तीसरा दिन: भारत ने शुक्रवार का खेल समाप्त होने तक 194 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी दूसरी पारी में पांच विकेट गंवाकर 110 रन बना लिए हैं। कप्तान विराट कोहली ने नाबाद (43) और दिनेश कार्तिक ने (18) रन बनाए थे एवं भारत को 194 रन के लक्ष्य को पूरा करने के लिए 84 रनों की आवश्यकता है। स्टुअर्ट ब्रॉड के नेतृत्व में इंग्लैंड टीम की गेंदबाज ने धुंधले (बदलो से भरे हुए) मौसम का फायदा उठाते हुए भारतीय टीम के आधे विकट गिरा दिये थे। इंग्लैंड टीम ने इस मैच में अच्छी गेंदबाजी का प्रदर्शन किया, जो किसी-किसी समय भारतीय बल्लेबाजों के लिए चुनौतीपूर्ण रहा।

पहले टेस्ट मैच कादूसरा दिन: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बर्मिंघम के एजबेस्टन में क्रिकेट के मैदान पर एक रोमांचक पारी खेली। विराट कोहली ने पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन कुल 149 रन बनाए और दिन का खेल समाप्त होने तक भारत ने 274 रन बनाये। बर्मिंघम के एजबेस्टन क्रिकेट मैदान में टेस्ट क्रिकेट खेलते हुए यह विराट का 22 वां शतक था। सैम कुरेन ने प्रभावशाली गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए चार विकेट अपने नाम किए।

पहले टेस्ट मैच का पहला दिन: इस मैच में भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ एक दृढ़ शुरुआत की और भारतीय टीम ने मेजबान टीम को पहली पारी में ही 287 रनों पर आउट करते हुए  वापस पवेलियन भेज दिया था। सैम कुरान ने एक ही ओवर में, के. एल. राहुल और मुरली विजय का विकेट लेकर इंग्लैंड टीम को फिर से मजबूत बना दिया। कल के मैच से पता चला कि टेस्ट मैच में तेजी से हो रही स्पर्धाएं एक रोमांचक मोड़ भी ले सकती हैं।जॉनी बैयरस्टो और जो रूट ने न केवल अर्धशतकीय पारी खेली बल्कि स्कोरबोर्ड पर 216/3 का स्कोर लगाया। जब जॉनी बैयरस्टो और जो रूट अपने शानदार प्रदर्शन के साथ, पारी को आगे बढ़ाने में लगे हुए थे उसी समय भारतीय कप्तान विराट कोहली ने जो रूट को 80 रनों के स्कोर पर रन आउट कर दिया। जो रूट का विकेट लेने के बाद भारतीय टीम ने पांच और विकेट लिए। दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड टीम ने 69 रन और जोड़ कर कुल स्कोर 285/9 तक पंहुचा दिया था।

भारत, इंग्लैंड के एडगस्टन में पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलने जा रहा है। घरेलू टीम होने के नाते इंग्लैंड अपने अनुकूल परिस्थितियों का लाभ उठाने की कोशिश में है, वहीं भारतीय टीम 2014 में टेस्ट सीरीज में मिली 3-1 की हार के बाद हुई फजीहत का बदला लेने की नियत से उतरेगी। टीम इंडिया ने टी-20 श्रृंखला 2-1 से जीती थी, ठीक उसी प्रकार से इंग्लैंड ने भी भारत को वनडे में 2-1 से हराते हुए श्रृंखला जीती। इंग्लैंड टीम ने पहले टेस्ट के लिए 13 खिलाड़ियों की टीम की घोषित की है, जबकि भारत ने पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए 18 खिलाड़ियों की टीम की घोषणा की है। यह मैच कल सुबह 3:30 बजे होगा।

इंग्लैंड टीम ने 1 अगस्त से भारत के खिलाफ एजबेस्टन में खेले जाने वाले अपने पहले टेस्ट मैच के लिए 13 सदस्यों की एक टीम की घोषणा कर दी है। इंग्लैंड द्वारा की गई टेस्ट टीम की घोषणा के दौरान सबसे बड़ा चर्चा का विषय लेग स्पिनर आदिल रशीद का आश्चर्यचकित रुप से टीम में शामिल होना रहा। हांलाकि वह टी -20 अंतरराष्ट्रीय और ओडीआई के लिए इंग्लैंड टीम में नियमित रुप से खेल रहे हैं, लेकिन दो साल के एक लंबे अंतराल तक इस प्रारुप से दुर रहने के बाद इस दाएं हाथ के स्पिनर को इंग्लैंड टेस्ट टीम में शामिल होने का मौका मिला है। आदिल ने दो साल पहले 2016 में  इंग्लैंड के लिए भारत के खिलाफ चेन्नई में आखिरी बार टेस्ट मैच में मैच खेला था। इंग्लैंड में, काउंटी चैम्पियनशिप टेस्ट टीम की चयन प्रक्रिया में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती  है। आदि लयॉर्कशायर की तरफ से खेलते हैं, हालांकि, अपने काउंटी क्लब के साथ किये गए  हालिया अनुबंध में उन्होंने यॉर्कशायर के लिए 4-दिवसीय टेस्ट मैच खेलने का विकल्प चुना।टीम में उनके शामिल होने को लेकर पूर्व खिलाड़ी और विशेषज्ञों ने आपत्ति जताई, क्योंकि वे इस बेतुके करार को लेकर निराश प्रकट की।

हाल ही में समाप्त हुई एकदिवसीय सीरीज के दौरान कुलदीप यादव को उनके शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के लिए इंग्लैंड के खिलाफ आगामी 5 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए टेस्ट टीम में शामिल किया गया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए टेस्ट टीम की घोषणा कर दी है, जबकि 18 सदस्यीय खिलाड़ियों की सूची में विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत को भी शामिल किया गया है, जो अपना पहला टेस्ट मैच खेलेंगे। अनुभवी टेस्ट खिलाडियों – ईशांत शर्मा, रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और चेतेश्वर पुजारा की टेस्ट टीम में वापसी हुई है। भुवनेश्वर कुमार और रिद्धिमान साहा भारत की टेस्ट टीम से बाहर हैं, हालांकि बीसीसीआई अभी भी तीसरे और आखिरी ओडीआई के दौरान भुवनेश्वर कुमार को पीठ में लगी चोट का आंकलन कर रहा है। रोहित शर्मा की जगह करुण नायर को टीम इंडिया में मौका दिया गया है। क्योंकि करुण काफी लंबे समय से इंडिया ए टीम के साथ इंग्लैंड के दौरे पर है। शायद इसी वजह से उन्हें रोहित के ऊपर तरजीह दी गई है। विराट कोहली ने टेस्ट टीम में वापसी की है और अब वह इंग्लैंड के खिलाफ टीम का नेतृत्व करेंगे, जैसा कि भारत एकदिवसीय श्रृंखला में मिली हार से सबक लेते हुए, 11 साल बाद अंग्रेजी जमीं पर एक टेस्ट श्रृंखला जीतकर इतिहास रचना चाहेगा।

जो रूट ने अपनी शानदार फॉर्म जारी रखते हुए लगातार दूसरा शतक जड़ा, जिसकी बदौलत इंग्लैंड ने तीसरे और निर्णायक मैच को जीतकर एकदिवसीय सीरीज अपने नाम कर ली। इंग्लैंड ने बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों से ऑल-राउंड प्रदर्शन किया, जिसकी बदौलत टीम ने 3 मैंचों की एक दिवसीय श्रंखला पर कब्जा करते हुए टी-20 सीरीज में मिली हार का बदला ले लिया। इंग्लैंड ने टॉस जीता और टीम इंडिया को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया, भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा जल्द ही आउट हो गए। हालांकि, कप्तान कोहली और शिखर धवन ने भारत को संभाला और इसके बाद पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ महेंद्र सिंह धोनी ने टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। भारतीय टीम ने इंग्लैंड के सामने 257 रनों का लक्ष्य रखा, लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम की शुरुआत अच्छी रही लेकिन सलामी बल्लेबाजों के आउट होने के बाद जो रूट और कप्तान इऑन मोर्गन ने मैच जिताऊ साझेदारी की। जो रूट ने शानदार शतक जड़ते हुए टीम को संभाला, जबकि इयोन मोर्गन ने 88 रनों की पारी खेली। आदिल रशीद को उनके शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच से पुरस्कृत किया गया, जिसमें इन्होंने अपने 10 ओवरों में 49 रन देते हुए महत्वपूर्ण 3 विकेट झटके। जो रूट को सीरीज में 216 रन बनाने के लिए मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार दिया गयाऔर इसके साथ वह इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गये। टी 20 और एकदिवसीय श्रंखला के बाद दोनों टीमें अब 1 अगस्त से शुरू हो रही 5- टेस्ट मैचों की सीरीज पर अपना ध्यान केंद्रित करेंगी। जैसा कि एकदिवसीय श्रृंखला में मिली हार और साथ ही 4 साल पहले टेस्ट श्रंखला में हार के कारण भारत को जिस अपमान का सामना करना पड़ा था, उसका बदला लेना चाहेगा।

टी-20 अंतर्राष्ट्रीय श्रृंखला के बाद, भारत और इंग्लैंड एक और श्रृंखला के निर्णायक मैच में आमने-सामने हैं, जब घरेलू टीम हेडिंग्ले में वनडे सीरीज मेंअपने भाग्य का फैसला करने के लिए भारत से मुकाबला करेगी। दोनों सीरीजों में इंग्लैंड ने पहला मैच गंवाने के बाद बढ़िया वापसी की है। भारत 1 अगस्त से शुरू होने वाली 5 मैचों की टेस्ट श्रृंखला में शामिल होने से पहले अंग्रेजी जमीं पर एक और श्रृंखला जीतने की तलाश में होगा। टीम इंडिया अपने शीर्ष-क्रम द्वारा फॉर्म को जारी रखने की उम्मीद कर रहा है, जिन्होंने अब तक पूरे दौरे में अंग्रेजी गेंदबाजों पस्त कर रखा है। भारतीय मध्यक्रम का अच्छा प्रदर्शन आना अभी बाकी है। इंग्लिश टीम बाएं हाथ के स्पिनर गेंदबाज कुलदीप यादव को बेअसर करने के बारे में सोच रही है, जिन्होंने पहले और दूसरे ओडीआई में शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के साथ अंग्रेजी बल्लेबाजी लाइन-अप को हिला कर रख दिया था। इंग्लैंड टीम टी -20 श्रृंखला में हार का बदला लेने और देश भर में प्रशंसकों और दर्शकों को ओडीआई श्रृंखला जीतकर गर्वांवित करने के बारे में सोच रही है, तीन मैचों की सीरीज जो 1-1 से बराबर है।

मेहमान टीम से मिली हार के बाद इंग्लैंड ने दूसरे एकदिवसीय मैच में जीत के साथ वापसी करते हुए 17 जुलाई को हेडिंग्ले में होने वाले निर्णायक मैच को और अधिक रोमांचक बना दिया। पहले बल्लेबाजी करने उतरे जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो ने अंग्रेजी टीम को सधी हुई शुरुआत दी, तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए जो रूट को कप्तान इऑन मोर्गन का अच्छा साथ मिला, जिसकी बदौलत इन्होंने 116 गेंदो पर शानदार 113 रन बनाए। इऑन मोर्गन के आउट होने के बाद जो रूट और डेविट विली के बीच अच्छी साझेदारी देखने को मिली। जिसकी बदौलत इंग्लैंड की टीम ने 7 विकेट के नुकसान पर कुल 322 रन बनाए। टीम इंडिया के कुलदीप यादव ने गेंदबाजी में अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए 3 विकेट लिए, लेकिन इस बार वह टीम के अन्य गेंदबाजों के साथ मंहगे साबित हुए। लक्ष्य का पीछा करने के इरादे से एक बार फिर से उतरी भारतीय सलामी जोड़ी द्वारा शुरुआत अच्छी नहीं रही। पिछले मैच में शतक जड़ने वाले रोहित शर्मा बहुत ही सस्ते में महज 15 रन के स्कोर पर ही आउट हो गए। कोई भी भारतीय बल्लेबाज शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील कर पाने में सफल नही हो पाया, सभी बल्लेबाज सस्ते में आउट हो गए। कप्तान विराट कोहली अपना अर्धशतक पूरा कर पाने से 5 रन से चूक गए। आखिरकार, बढ़ते रन रेट और लगातार विकेटों के पतन के कारण पूरी भारतीय टीम कुल 236 के स्कोर पर सिमट गई। इसका श्रेय इंग्लैंड के लिआम प्लंकेट को जाता है जिन्होंने 46 रन देकर 4 विकेट झटके। जो रूट को उनके शानदार शतक के कारण मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया।

रोहित शर्मा ने आखिरी टी-20 इंटरनेशनल में नाबाद 100 रन बनाते हुए एकदिवसीय मैचों में भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा तथा एक और शतक लगा कर 1 गेंद शेष रहते हुए भारत को 8 विकेट से एक आसान जीत दिलाई। हालांकि, उस मैच के स्टार खिलाड़ी कुलदीप यादव थे जिन्होंने अपने 10 ओवरों में 25 रन देकर 6 विकेट चटकाए और उन्हें बेहतर गेंदबाजी का प्रदर्शन करने के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। विराट कोहली ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और इंग्लैंड की टीम को बल्लेबाजी करने का मौका दिया। अंग्रेजी बल्लेबाजो ने पारी की शुरुआत अच्छी की लकिन वे उसे एक बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहें, बेन स्टोक्स और जोस बटलर ने, कुलदीप यादव के सिकंजे में फसने से पहले, इंग्लैण्ड के लिये सधी हुई बल्लेबाजी की और दोनों बल्लेबाजों ने  फिफ्टी लगाई।

मैन ऑफ द मैच रहे कुलदीप यादव ने अंग्रेजी बल्लेबाजी को तहस-नहस करते हुए इंग्लैण्ड की टीम को कुल 268 रनों पर ही सीमित कर दिया। टीम इंडिया स्कोर का पीछा करने के लिए मैदान में उतरी और शतकवीर रोहित शर्मा और शिखर धवन ने बाद के बल्लेबाजों के लिए आसानी से लक्ष्य तक पहुंचने हेतु एक अच्छा प्लेटफार्म स्थापित किया।

भारत और इंग्लैंड एक बार फिर से खेल के मैदान में भिड़ने के लिए तैयार हैं। इस समय दोनों टीमें नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज में आज से शुरू होने वाली वनडे सीरीज को जीतने के लिए दृढ़ता से लड़ने वाली हैं। टी-20 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज के दौरान एक प्रभावशाली बढ़त के बाद, भारतीय टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज पर उसी तरह से कब्जा करने की कोशिश करेगी। दूसरी तरफ, नंबर 1 वनडे टीम इंग्लैंड, टी-20 सीरीज में अपनी हार का बदला लेने की कोशिश करेगी और उस मजबूत स्थिति में वापस लौटेगी, जहाँ से यह टीम  एक दिवसीय मैचों की रैंकिंग में शीर्ष पर पहुची हैं। अंग्रेजी बल्लेबाज जो रूट का मानना है कि पिछले महीने का ऑस्ट्रेलियाई टीम दौरा, जिनको एक-दिवसीय मैचों में इंग्लैण्ड ने 5-0 से हराया था, के मुकाबले भारतीय टीम एक अलग चुनौती है। रूट ने टीम इंडिया के अच्छे प्रदर्शन को स्वीकार किया और कहा कि, यह 50 ओवर के प्रारूप में दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक है।

भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टी 20 इंटरनेशनल सीरीज 2-1 से जीत ली है। इसके बाद टीम इंडिया ट्रेंट ब्रिज में गुरुवार को तीन मैचों की एक-दिवसीय श्रृंखला का पहला मैच खेलने के लिए एक बार फिर से उसी तरह के प्रदर्शन को दोहराने के लिए तैयार है। ऑस्ट्रेलियाई टीम को 6-0 से हराने के बाद इंग्लैंड वर्तमान एक-दिवसीय रैंकिग में विश्व की नंबर 1 टीम है। दूसरी तरफ भारत, अंग्रेजी मिट्टी पर टी -20 सीरीज में किये गए हालिया प्रदर्शन से उत्साहित है और इसी अवसर का लाभ उठाते हुए भारत टीम विश्व की एक-दिवसीय रैंकिग में शीर्ष स्थान हासिल करना चाहेगी। यदि वे 3 मैचों की सीरोज में मेजबान टीम को 3-0 से हराकर क्लीन स्वीप करते हैं तो टीम इंडिया इंग्लैण्ड की टीम से आगे निकल सकती है। कप्तान विराट कोहली अगले साल होने वाले क्रिकेट विश्व कप, जो अंग्रेजी गर्मियों के दौरान इंग्लैंड में आयोजित होगा, के लिए अपनी टीम को वहां की परिस्थितियों के अनुकूल ढालने की तैयारी में लगे हैं।

तीन मैचों की वनडे (एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय) सीरीज 12 जुलाई से शुरू हो रही है। भारत ब्रिस्टल में टी-20 सीरीज 2-1 से जीतने के बाद सकारात्मक रुख के साथ वन डे सीरीज खेलने जा रहा है। पहला वनडे नॉटिंघम में खेला जाएगा, साथ ही इंग्लैंड टीम अपनी घरेलू परिस्थितियों का फायदा उठाते हुए वापसी की पूरी कोशिश करेगी। वनडे (एक दिवसीय) सीरीज की शुरुआत से पहले आयरलैंड के खिलाफ भारत के पहले अंतर्राष्ट्रीय टी-20 में जसप्रीत बुमराह के अंगूठे में लगी चोट के कारण टीम इंडिया को एक बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा। जिसके बाद दाएं हाथ के तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने इनकी जगह ली है। 1 अगस्त को टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले बुमराह पूरी तरह से ठीक होने की कोशिश कर रहे हैं। संभावना यह जतायी जा रही है कि 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच तक बुमराह ठीक हो जाएंगे।

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टी -20 अंतर्राष्ट्रीय मैच को बहुत ही शानदार तरीके से जीत लिया है। इस मैच में इंग्लैंड टीम ने भारतीय टीम को 199 रनों का लक्ष्य दिया था। मेजबान टीम ने, जिन्होंने कार्डिफ में जीत कर सीरीज बराबर की थी, बल्लेबाजी के अनुरूप  ब्रिस्टल की पिच पर अपने बेहतरीन प्रदर्शन से भारत को 200 रन के करीब लक्ष्य दिया। इंग्लैंड टीम के सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय और जोस बटलर मैदान में उतरे और भारतीय गेंदबाजी को निशाना बनाते हुए 31 गेंदों पर 63 रन बनाए, मध्य क्रम ने भी दिये गए स्कोर में महत्वपूर्ण योगदान दिया। हालांकि, भारतीय गेंदबाजों ने आखिरी के 5 ओवर में लक्ष्य को 200 से नीचे रोकने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी। लेकिन, एक समय पर ऐसा लगा था कि मेजबान टीम 220 रनों का लक्ष्य भारतीय टीम को देगी।

भारतीय टीम ने शुरुआत में लड़खड़ाने के बाद धमाकेदार वापसी की। भारतीय उप-कप्तान ने अंग्रेजी गेंदबाजों की गेंदों पर प्रहार करते हुए मैदान के चारों तरफ रन बनाए। उन्होंने कप्तान कोहली, जिन्होंने एक छोर से पारी सम्भाली, के साथ खेलते हुए अपना नाबाद शतक बनाया और अपनी रन बनाने की गति को जारी रखा। भारतीय कप्तान के आउट होने के बाद हार्दिक पांड्या ने दूसरा छोर संभाला। रोहित शर्मा ने हार्दिक पांड्या के साथ मिलकर दिये गए 199 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए 8 गेंद पहले ही 7 विकट से जीत हासिल कर ली। हार्दिक पांड्या जिन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। पहली पारी में उन्होंने 4 विकट लिए और बाद में तूफानी बल्लेबाजी करते हुए 14 गेंदों पर 33 रनों की पारी खेली और गेंद को सीमा रेखा के बाहर ही रखा। रोहित शर्मा को मैन ऑफ द मैच के साथ-साथ मैन ऑफ़ द सीरीज घोषित किया गया और यह पहला राउंड टीम इंडिया के नाम रहा।

मेजबान टीम इंग्लैंड ने कार्डिफ में खेला गया दूसरा टी -20 अंतर्राष्ट्रीय मैच जीतकर तीन मैचों की टी -20 सीरीज में बराबरी हासिल कर ली। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर टीम इंडिया से पहले बल्लेबाजी करने को कहा और खुद गेंदबाजी करने का फैसला लिया। भारतीय टीम ने 5 विकेट गंवाकर कुल 148 रन बनाए, जिसमें कप्तान कोहली ने मोर्चा संभालते हुए 47 रन बनाए। कप्तान कोहली के बाद वाले शीर्ष 3 बल्लेबाज अपना प्रभाव डालने में असफल रहे।अंग्रेजी गेंदबाज डेविड विले और लिआम प्लंकेट ने अपनी गेंदबाजी से भारतीय टीम के स्कोर को सीमित रखा और दोनों गेंदबाजों ने एक-एक विकेट भी लिया। कुल मिलाकर निर्धारित रनों का पीछा करने के लिए इंग्लैंड टीम मैदान में उतरी, लेकिन शुरूआती झटकों के कारण शीर्ष क्रम अच्छा स्कोर बनाने में नाकाम रहा। हालांकि बाद में, एलेक्स हेल्स ने नाबाद 58 रनों की पारी खेली और जोनी बैरस्टो के साथ मिलकर एक शानदार साझेदारी बनायी। हेल्स ने टीम को मैच में आगे बढ़ाया और आखिरी ओवर की दो गेंद शेष रहते हुए मैच में जीत हासिल कर ली। सीरीज में बराबरी के साथ, सोमवार को तीसरा मैच खेला जायेगा। दोनों टीमों के बीच सीरीज जीतने के लिये कड़ा मुकाबला होगा।

भारत के इंग्लैंड दौरे में, पहले टी-20 इंटरनेशनल मैच में इग्लैंड टीम के 160 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम मैदान में उतरी और 10 अतिरिक्त गेंदों के साथ जीत हासिल की। 3 मैचों की टी-20 अन्तर्राष्ट्रीय श्रंखला के दूसरे मैच में भारत बढ़त के साथ उतरेगा, जबकि इंग्लैंड पहले मैच में मिली हार का बदला लेने तथा मैच में बने रहने की कोशिश करेगा। मेन इन ब्लू आज कार्डिफ में सीरीज जीतने के लिए तैयार होंगे, जबकि इंग्लैंड टीम उस सीरीज के स्तर तक पहुँचने की कोशिश करेगी। यदि भारत आज मैच जीतने में कामयाब रहा, तो मेहमान टीम लगातार छठी टी -20 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज जीत जाएगी। पहले मैच में भारत की जीत के मुख्य नायक के. एल. राहुल और कुलदीप यादव ने अपना प्रदर्शन इसी तरह से जारी रखा तो विदेशी टीम के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं, जबकि विदेशी खिलाड़ी अपने क्षेत्र में जीत हासिल करना चाहते हैं।

आज भारत और इंग्लैंड के बीच चार मैचों की सीरीज (चतुर्भुज श्रृंखला) के मुकाबले की शुरुआत हो चुकी है, भारतीय टीम पिछली बार 2014 में अंग्रजी मिट्टी पर मिले अपमान का बदला लेने का प्रयास कर रही है। औपनिवेशिक अतीत के कारण, भारत बनाम इंग्लैंड हमेशा से कड़े प्रतिद्वंदी रहे हैं, क्रिकेट का खेल अपने देश की टीमों से संबंधित भारतीय और अंग्रेजी समर्थकों के जुनून और उत्साह को बढ़ाता है।

2018 के भारत के इंग्लैंड दौरे में 5 टेस्ट, 3 वनडे इंटरनेशनल और 3 टी -20 इंटरनेशनल शामिल हैं, जो आज से शुरू हो रहे हैं। चार साल पहले, जब भारतीय टीम ने इंग्लैंड की गर्मियों के दौरान वहां का दौरा किया। यह दौरा टीम इंडिया के लिए एक अविस्मरणीय अनुभव था। पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में से भारतीय टीम को एक मैच में ही जीत प्राप्त हुई है और श्रखला में उसे हार का सामना करना पड़ा था। इस सीरीज में इंग्लैंड ने भारत पर 3-1 से जीत दर्ज की थी। पांच मैचों की एकदिवसीय (वनडे) सीरीज में भारतीय टीम ने शानदार वापसी करते हुए समान अंतर (3-1) से ही अंग्रेजी टीम को पराजित किया, हालांकि, भारतीय टीम खेले गए एक मात्र टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में हार गई थी।

टीम इंडिया अपनी वर्तमान स्थिति को बरकरार रखना चाहेगी, क्योंकि वह टेस्ट में नंबर 1 टीम के रूप में दौरे पर जा रही है, जबकि इंग्लैंड की टीम टेस्ट, ओडीआई और टी -20 में अपनी रैंकिंग में और अधिक सुधार करना चाहेगी। दिसम्बर 2017 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे के बाद से यह भारत का पहला उच्च स्तरीय विदेशी दौरा है। आईपीएल की समाप्ति के साथ, भारतीय क्रिकेट टीम देश के लिए खेलने और प्रतिस्पर्धा करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

भारत का इंग्लैंड दौरा 2018 की सूची

भारत का इग्लैंड दौरा गर्मियों के दौरान ढाई महीने तक प्रमुख रहेगा, क्योंकि क्रिकेट का मध्य सितंबर तक लगातार प्रदर्शन जारी रहेगा जो कि दुनिया भर के अंग्रेजी और भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों के लिए एक खुशनुमा समय होगा।

यहां पर भारत के इंग्लैंड दौरे 2018 की पूरी सूची दी गई है:

भारत का इंग्लैंड दौरा टी-20 सीरीज 2018

मैच

दिनांक

समय

स्थान

पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय 07/03/2018 रात 10:00 बजे (आईएसटी) ओल्ड ट्रैफोर्ड, मैनचेस्टर
दूसरा टी-20 अंतर्राष्ट्रीय 07/06/2018 रात 10:00 बजे (आईएसटी) सोफिया गार्डेन्स कार्डिफ
तीसरा टी-20 अंतर्राष्ट्रीय 07/08/2018 शाम 06:30 बजे (आईएसटी) काउंटी ग्राउंड, ब्रिस्टल

 

भारत का इंग्लैंड दौरा ओडीआई सीरीज 2018

मैच

दिनांक

समय

स्थान

पहला एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय 07/12/2018 शाम 05:00 बजे (आईएसटी) ट्रेंट ब्रिज, नॉटिंघम
दूसरा एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय 07/14/2018 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) लार्ड्स लन्दन
तीसरा एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय 07/17/2018 शाम 05:00 बजे (आईएसटी) हेडिंग्ले, लीड्स

 

भारत का इंग्लैंड दौरा टेस्ट सीरीज 2018

मैच

दिनांक

समय

स्थान

पहला टेस्ट 01/08/18-05/08/18 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) एजबस्टन बर्मिंघम
दूसरा टेस्ट 09/08/18-13/08/18 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) लार्ड्स लंदन
तीसरा टेस्ट 18/08/18-22/08/18 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) ट्रेंट ब्रिज, नॉटिंघम
चौथा टेस्ट 30/08/18-03/09/18 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) रोज बाउल साउथहैम्पटन
पांचवा टेस्ट 07/09/18-11/09/18 03:30 बजे अपराह्न (आईएसटी) केनिंगटन ओवल, लंदन

 

भारतीय टीम का इंग्लैंड दौरा 2018

दोनों टीमें एक लंबे और रोमांचपूर्ण गर्मियों के दौरे के लिए तैयार हैं| इन दोनों टीमों ने टी-20 और वन डे (एक दिवसीय) सीरीज के लिए सबसे शक्तिशाली टीमों के रूप प्रवेश किया है, जबकि टेस्ट सीरीज के लिए टीम की घोषणा बाद में की जाएगी।

यहां 3 टी-20 और 3 ओडीआई (एक दिवसीय) सीरीज के भरतीय टीम और मेजबान टीम इंग्लैंड का विवरण दिया गया है :

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोईन अली, जॉनी बेरस्टो, जैक बॉल, जोस बटलर, सैम कुरान, टॉम कुर्रन, एलेक्स हेल्स, क्रिस जॉर्डन, लिआम प्लंकेट, आदिल रशिद, जो रूट, जेसन रॉय, डेविड विले, डेविड मैलन, बेन स्टोक, मार्क वूड

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या, सिद्धार्थ कौल, भुवनेश्वर कुमार, सुरेश रैना, उमेश यादव, अक्षर पटेल, मनीष पांडे, दीपक चहर, क्रुणाल पांड्या।

भारत-इंग्लैंड दौरा 2018: घोषित टी-20 टीम

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोईन अली, जॉनी बैरस्टो, जैक बॉल, जोस बटलर, सैम कुरान, टॉम कुर्रन, एलेक्स हेल्स, क्रिस जॉर्डन, लिआम प्लंकेट, आदिल रशिद, जो रूट, जेसन रॉय, डेविड विले, डेविड मैलन

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल, उमेश यादव, क्रुणाल पांड्या, दीपक चहर।

भारत-इंग्लैंड दौरा 2018: घोषित ओडीआई (वनडे) टीम

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोईन अली, जॉनी बैरस्टो, जेक बॉल, जोस बटलर, बेन स्टोक, टॉम कुर्रन, एलेक्स हेल्स, क्रिस जॉर्डन, लिआम प्लंकेट, आदिल रशिद, जो रूट, जेसन रॉय, डेविड विले, मार्क वूड।

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या, सिद्धार्थ कौल, भुवनेश्वर कुमार, सुरेश रैना, उमेश यादव, अक्षर पटेल।

भारत के इंग्लैंड दौरे 2018 के लिए टेस्ट मैच की टीम

* अब घोषणा की जाएगी……

Summary
Article Name
भारत का इंग्लैड दौरा 2018: गौरव की लड़ाई
Author
Description
भारतीय क्रिकेट टीम चार साल पहले हुए मैच में निराशाजनक प्रदर्शन का बदला लेने के लिए चार साल बाद इंग्लैंड का दौरा करने जा रही है। दोनों टीमें एक दूसरे के आमने सामने होंगी और इस दौरे की शुरुआत 03/06/18 को ओल्ड ट्रैफोर्ड में पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलकर की गई।