My India - All about India

मजबूत हड्डियों के लिए सर्वोत्तम कैल्शियम से भरपूर खाद्य पदार्थ

“एक स्वस्थ शरीर में स्वस्थ दिमाग का वास होता है।” प्राचीन काल से इस अंग्रेजी कहावत के जरिए लोगों को, एक स्वस्थ जीवन शैली के महत्व के बारे में स्मरण कराया जाता रहा है। यह कहावत इस बात की ओर इशारा करती है कि स्वास्थ्य का दर्जा सर्वोपरि होता है। स्वस्थ शरीर को एक संपत्ति के समान माना जाता है। स्वस्थ शरीर एक बगीचे की तरह होता है और इस बगीचे में स्वस्थ दिमाग नामक [...]

क्या भारत को बुलेट ट्रेन की आवश्यकता है?

2014 में, जब से एनडीए सरकार ने केंद्र का पदभार संभाला है, तब से तेज गति वाली बुलेट ट्रेनों की चर्चा जोर-शोर से हो रही है। भारत में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे के आगमन के कारण, आज ऐसा प्रतीत होता है कि जल्द ही देश में बुलेट ट्रेन का सपना हकीकत में बदलने की ओर अग्रसर है। भारत-जापान के संयुक्त उपक्रम की बदौलत भारत की पहली बुलेट ट्रेन की संभावना बनाते हुए (15 सितंबर [...]

दुर्गा पूजा विशेष: बॉलीवुड से सर्वश्रेष्ठ माँ दुर्गा के गीत

दुर्गा पूजा हम सभी के मुख्य व्रत त्यौहारों में से एक है और इस व्रत त्यौहार को सिर्फ एक हफ्ता शेष रह गया है। बंगाल में, यह त्यौहार महालय के शुरू होने से नौ दिन तक मनाया जाता है और इस अवधि के दौरान राज्य के लोग अपने दुखों को भूलकर, जीवन के सबसे बड़े उत्सवों में से एक दुर्गा पूजा में भाग लेने के लिए एक साथ आते हैं। लोगों के लिए आनन्द और [...]

विश्व भर से ज्यादा भारत में बाल मृत्यु दर क्यों है?

भारत के विभिन्न शहरों में होने वाली शिशुओं की मौत की हालिया खबरों के कारण, पूरा देश सदमे की स्थिति में आ गया है। देश में बाल स्वास्थ्य और बाल मृत्यु दर की दयनीय स्थिति, लोगों के बीच बहुत ही चिंता का विषय बनी हुई हैं। हालाँकि, अधिकांश देशों में विश्व स्तर पर शिशु और बाल मृत्यु दर में उल्लेखनीय सुधार दर्ज हो रहे हैं, लेकिन भारत में बाल मृत्यु दर की स्थिति बद से [...]

  भारतीय न्याय तन्त्र आज दुनिया के सबसे पुराने कानून तन्त्रों में से एक है और यह भारत में अभी भी औपनिवेशिक शासन की अपनी शताब्दी के दौरान ब्रिटिश न्याय तन्त्र से विरासत में मिली कुछ विशेषताओं को शामिल करता है। भारतीय संविधान, जो कि देश का सर्वोच्च कानून है, यह देश के वर्तमान कानून और न्याय तन्त्र का ढाँचा मुहैया कराता है। भारतीय न्याय तन्त्र नियामक कानून और वैधानिक कानून के साथ एक “आम [...]

उस लोकप्रिय टीवी विज्ञापन को याद करिये जब पुलिस एक कार को रोकती है और कार का मालिक बिना किसी दस्तावेज या सत्यापन के ऑनलाइन बीमा करवा लेता है। खैर, अब वो दिन बीत सकते हैं। पिछले हफ्ते, 10 अगस्त 2017 को सुप्रीम कोर्ट की एक बेंच ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई की जो 1980 के दशक में पर्यावरणविद् एम.सी. मेहता द्वारा पुनः दर्ज कराई गई थी, इसमें भारत में प्रदूषण की रोकथाम तथा [...]

माल और सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने अपनी 21 वीं बैठक के बाद, भारत की  मौजूदा जीएसटी (माल और सेवा कर) दरों में कुछ बदलाव किए हैं। यह बैठक 9 सितंबर 2017 को हैदराबाद में आयोजित हुई थी। संयोगवश यह जीएसटी दरों के लागू होने के बाद दूसरी समीक्षा बैठक थी। इससे मोटर वाहनों जैसी वस्तुओं पर लगने वाले उपकर (सैस) की दर में इजाफा हुआ है। मध्यम लागत वाली कारों पर लगने वाले उपकर [...]

भारत दुनिया के सबसे विविध देशों में से एक है जिसमें कई धर्म, रीति-रिवाज, परंपराएँ, व्यंजन और भाषाएँ सम्मिलित हैं। हिंदी भारत की सर्वप्रमुख भाषाओं में से एक है और 2001 में, इस भाषा के लगभग 26 करोड़ देशव्यापी वक्ता थे, जिससे यह भाषा देश में सबसे अधिक और व्यापक रूप से बोली जाने वाली भाषा बन गई है। जब 14 सितंबर 1949 को हिंदी भाषा को भारत में गौरवान्वित स्थान मिला, तो इसे देश [...]

स्वामी विवेकानंद के प्रसिद्ध शिकागो भाषण से पाँच मुख्य बातें

11 सितंबर 2017 को विश्व धर्म महासभा शिकागो की, जिसमें स्वामी विवेकानंद ने भाषण दिया था, 125 वीं वर्षगांठ पूरी होने वाली है। संत और सामाज सुधारक विवेकानंद ने पश्चिम में हिंदुत्व को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 1893 में, उनके द्वारा दिया गया तर्किक भाषण इतना सुस्पष्ट था कि उस समय वैज्ञानिक अंतर्दृष्टि ने बहुत ध्यानपूर्वक सुना था। वास्तव में, उस भाषण के दौरान वहाँ मौजूद उच्चाधिकारी तल्लीनता से दो मिनट तक सुनते रह गए। असल [...]

  गुरूग्राम के एक नामी विद्यालय रेयान इंटरनेशनल स्कूल के बाथरूम में, सात वर्षीय प्रद्युम्न की क्रूर हत्या के कारण, पिछले हफ्ते राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में रहने वाले प्रद्युम्न के माता-पिता इस क्षेत्र को छोड़ चुके हैं और वास्तव में इस घटना की वजह से पूरा देश गहरे सदमे में है। ऐसा माना जाता है कि स्कूल के बस कंडक्टर ने प्रद्युम्न के साथ छेड़छाड़ के बाद उसका गला काट दिया था, इसके कारण पुलिस [...]