Home / Business

Category Archives: Business

भारत में जापान का निवेश

जब वर्ष 2014 में मोदी सरकार ने केंद्र का पद भार संभाला, तब से विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) मुख्य-रूप से आकर्षित रहा  है। एफडीआई कई आर्थिक नीतियों, कर सुधारों और विशेष रूप से व्यवसाय करने में आसानी व विदेशी निवेशकों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। मेक इन इंडिया का शुभारंभ प्रमुख क्षेत्रों में इन एफडीआई को बढ़ावा देने का एक प्रयास है, ताकि भारत को दुनियाभर में एक महत्वपूर्ण विनिर्माण और सेवा [...]

जन धन योजना

भारत के प्रधानमंत्री के रूप में नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अपने पहले भाषण में घोषणा की, कि उनकी सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भारत के सभी नागरिकों को बैंक खाते और डेबिट कार्ड तक पहुंच मिल सके। देश में गरीब जनता की ‘वित्तीय अस्पष्टता’ के युग का अंत होना चाहिए – इस महत्वाकांक्षा को ध्यान में रखते हुए मोदी ने 28 अगस्त 2014 को औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री जन धन योजना की शुरुआत [...]

भारत में इलेक्ट्रिक वाहन

देश में इलेक्ट्रिक वाहन विनिर्माण उद्योग को क्या भविष्य में एक विशाल कदम कहा जा सकता है। राज्य की स्वामित्व वाली तेल और गैस कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने देश में पहली बार इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्जिंग स्टेशन के शुभारंभ की घोषणा की। महाराष्ट्र के नागपुर शहर के आईओसी पेट्रोल पंप में यह स्टेशन स्थापित किया गया है। यह इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन आईओसी और लोकप्रिय टैक्सी-ऑन-कॉल सेवा (काल करने पर आने वाली) प्रदाता, [...]

जीएसटी कर की नई दरें 2017

10 नवंबर 2017 दिन शुक्रवार को 23 वीं जीएसटी परिषद की बैठक का आयोजन हुआ था और उस बैठक में परिषद ने देश के कर दाताओं को एक बड़ा उपहार देने का फैसला किया है। परिषद ने लगभग 200 वस्तुओं की जीएसटी दर घटा दी है, इनमें से 178 वस्तुओं को शीर्ष स्लैब (स्तर) 28 प्रतिशत से स्थानांतरित कर दिया गया और इन वस्तुओं को 18 प्रतिशत कर स्लैब में रखा गया है। अब शीर्ष [...]

वैट पर जीएसटी के लाभ

योजना चरण में लगभग 17 वर्षों के बाद और राज्य सरकारों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद, एनडीए के नेतृत्व वाली केंद्रीय सरकार ने अंततः 1 जुलाई 2017 को माल और सेवा कर (जीएसटी) लागू किया था। कई लोगों ने माल और सेवा कर (जीएसटी) का स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े कर सुधारक के रूप में स्वागत किया। जीएसटी एक समेकित (संयुक्त) कर है, जो विभिन्न माल (वस्तुओं) और सेवाओं पर लगाए गए विभिन्न करों [...]

माल और सेवा कर(जीएसटी) फॉर्म

भारत सरकार द्वारा 1 जुलाई को माल और सेवाओं पर लगाए गए कर की शुरुआत की गई थी। माल और सेवाओं पर लगाए जाने वाले कर को जीएसटी के नाम से जाना जाता है, 1 जुलाई को राज्य और केंद्र सरकार द्वारा लगाए जाने वाले विभिन्न करों में फेर-बदल किया गया है। जीएसटी के साथ, इसकी प्रक्रियाओं को सरल बना दिया गया है क्योंकि इससे उपभोक्ता कई बार के बजाय सिर्फ एक बार ही कर [...]

जीएसटी नियमों में परिवर्तन: सभी बातें जो आपको नए जीएसटी नियमों के बारे में पता होनी चाहिए

असंख्य केन्द्रीय और राज्य करों को बदलकर, भारत सरकार ने 1 जुलाई 2017 को माल एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू किया। जीएसटी के कठिन नियमों और दरों  के कारण छोटे व्यापारी तथा निर्यातक इससे संतुष्ट नहीं हो सके और इससे आने वाली समस्याओं के बारे में शिकायतें शुरू हुईं। जीएसटी को लागू हुए तीन महीने हो चुके हैं और इसके कारण आने वाली समस्याएं भी उजागर हो चुकी हैं, माल एवं सेवा कर समिति [...]

शेल कंपनियाँ क्या हैं और सरकार उन्हें जब्त क्यों चाहती है?

सरकार ने काले धन और बेईमान कंपनियों को बाहर निकालकर अर्थव्यवस्था को सुव्यवस्थित करने के लिए ठोस प्रयास शुरू किए हैं। अगस्त के महीने में, सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया ने 331 संदेहास्पद शेल कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए स्टॉक एक्सचेंजों के निर्देश जारी किए। स्वतंत्रता दिवस के भाषण में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि करीब 1.75 लाख शेल कंपनियों को विपंजीकृत कर दिया गया है। शेल कंपनियाँ क्या हैं? [...]

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने राजपत्र अधिसूचना के माध्यम से घोषणा की है कि जल्द ही देश के केंद्रीय भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा एक नई मुद्रा- 200 रुपये का नोट जारी करेगी। अधिसूचना में कहा गया है, “भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम की धारा 24 की उपधारा (1),1934 और रिजर्व बैंक के केंद्रीय निदेशक मंडल की सिफारिशों पर प्रदत्त शक्तियों के प्रयोग में केंद्र सरकार बैंक में दो सौ रुपये मूल्य के नोटों को निर्दिष्ट [...]

बेंगलुरु को भारत का तकनीकि केन्द्र कहा जा सकता है लेकिन दिल्ली-एनसीआर (नेशनल कैपिटल रीजन) में फिलहाल स्टार्टअप्स की संख्या सबसे ज्यादा – 8772 है। ट्रैक्सन टेक्नोलॉजीस द्वारा लगाए गए आँकड़ों में इस बात का खुलासा हुआ है। 6818 स्टार्टअप्स के साथ बेंगलुरू इसके अगले पायदान पर रहा। इस प्रकार 4825 उद्यमों के साथ मुंबई इसके बाद रहा। हैदराबाद में 2913 और इसके बाद पुणे में 1843 स्टार्टअप्स प्रचलित हैं। दिल्ली-एनसीआर में स्थित 449 स्टार्टअप्स को [...]