Home / Travel

Category Archives: Travel

यात्रा से संपूर्ण व्यक्तित्व विकास के 10 तरीके

एक स्थान से दूसरे स्थान की यात्रा करना मानव जीवन की सबसे मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है। यह आपको ऊर्जावान और जीवित होने का अनुभव देता है। अलग-अलग लोगों के पास यात्रा करने के अलग-अलग कारण होते हैं, लेकिन यात्रा से होने वाला लाभ सभी के लिए समान ही रहता है। कुछ लोग मजबूरी में यात्रा करते हैं जबकि अन्य लोग अपने बंधनों को तोड़ने के लिए यात्रा करते हैं। महत्वपूर्ण यात्राओं के प्रति [...]

मदिकेरी: कूर्ग का दिल

कोडगु, दक्षिण भारत के सबसे खूबसूरत स्थानों में से एक है। मुख्यतः कूर्ग के नाम से विख्यात, यह क्षेत्र कर्नाटक का एक प्रभावशाली आकर्षण है। मदिकेरी (जिसे कभी-कभी मर्करा भी कहा जाता है) इस क्षेत्र की राजधानी है और कावेरी नदी का उद्गम स्थल है, जो दक्षिण भारतीय सभ्यता की आत्मा है। दक्षिण भारतीय इतिहास का एक महत्वपूर्ण केंद्र होने के साथ ही, विशेष रूप से मदिकेरी निरन्तर चलने वाली सौंदर्ययुक्त ठंडी हवाओं के कारण [...]

विद्रोह स्मारक या दिल्ली की यादगार मीनार

स्थानः रानी झांसी रोड पर, कश्मीरी गेट, नई दिल्ली एक सदी से पहले, जब भारत ब्रिटिश राज के आधीन था, तो इस औपनिवेशिक शासन के विरुद्ध कुछ बहादुर स्वभाव वाले व्यक्तियों ने विद्रोह शुरू किया था, जिसे “स्वतंत्रता की पहली लड़ाई” के नाम से जाना जाता है। स्वतंत्रता आसान नहीं थी, क्योंकि क्रूर अंग्रेजों से जूझते हुए हजारों सैनिकों ने अपनी जान गँवा दी थी। उनकी वीरता और बलिदान का प्रतीक यह स्मारक, अब उनकी [...]

दिल्ली / एनसीआर में प्रसिद्ध मनोरंजन पार्क

आखिरकार गर्मियों के मौसम (ग्रीष्म ऋतु) की शुरुआत हो चुकी है और तापमान में भी बढ़ोत्तरी होने लगी है। दिल्ली में हर कोई या तो हिल स्टेशन के सुखद परिवेश या समुद्र तटीय इलाकों में जाकर पानी में डुबकी लगाने की इच्छा रखता है। लेकिन अपने व्यस्त कार्यक्रमों के कारण, हमें अपने मूड को ठीक करने के लिए अचानक यात्रा की योजना बनाना मुश्किल होता है। चारों ओर से जमीन से घिरा दिल्ली अपने आप [...]

औरंगाबाद में दौलताबाद किला

स्थान: औरंगाबाद, महाराष्ट्र भारत की तरह ही यहाँ की वास्तुकला की सर्वश्रेष्ठ रचनाएं भी अद्वितीय हैं। वास्तुकला के प्रत्येक भाग में अपनी स्वयं की विलक्षणता और भव्यता है। जैसा कि हम अद्वितीयता के बारे में बात करते हैं, ऐसी ही एक जगह जो मेरे दिमाग में अभी आई है, वह है औरंगाबाद में दौलताबाद का किला। 12वीं शताब्दी में निर्मित इस किले को उस समय का अभेद्य किला माना जाता है। यादव वंश के राजा [...]

विश्वेश्वरैया संग्रहालय

विश्वेश्वरैया औद्योगिक एवं प्रौद्योगिकीय संग्रहालय (वीआईटीएम) ज्ञान का भंडार है, जो आपको मनोरंजन से परिपूर्ण शैक्षिक अनुभव प्रदान करने के लिए, लाइव प्रसारण के माध्यम से विज्ञान को लोकप्रिय बनाता है। यह एक ऐसा स्थान है, जहाँ विज्ञान मौज-मस्ती के साथ संयोजित प्रतीत होता है, जिसका बच्चे और वयस्क समान रूप से आनंद लेते हैं। बेंगलुरु के केंद्र में स्थित, यह संग्रहालय सर. एम. विश्वेश्वरैया के सम्मान में बनवाया गया था, जो आधुनिक कर्नाटक के [...]

तिरुवनंतपुरम के आस-पास 5 शीर्ष सप्ताहांत गंतव्य

तिरुवनंतपुरम की व्यस्ततम व्यावसायिक गलियों से बाहर निकलकर, आप वहाँ के आस-पास के शानदार स्थानों पर जाकर काफी राहत का अनुभव कर सकते हैं। केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम सुरम्य परिवेश से घिरी हुई है, जो आपको आपके दैनिक दिनचर्या वाली जिंदगी से एक पूर्ण राहत प्रदान करने का कार्य करती है। इस सप्ताह के अंत में, कहीं बाहर सप्ताहांत व्यतीत करने की योजना बनाएं, क्योंकि हम आपको तिरुवनंतपुरम के आस-पास के कुछ बेहतरीन शांत सप्ताहांत [...]

भारत में बौद्ध सर्किट

क्या है बौद्ध सर्किट? बौद्ध धर्म के पवित्र स्थान, जहाँ भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था और वही पर उन्होंने शिक्षा, उपदेश और ‘ज्ञान’ और ‘निर्वाण’ प्राप्त किया, उन स्थानों को बौद्ध सर्किट कहा जाता है। ये बौद्ध धर्म, धार्मिक मंदिरों और पवित्र धार्मिक स्थलों के मठों के आध्यात्मिक घर हैं, जहाँ बौद्ध धर्म के अनुयायी स्वयं भगवान बुद्ध के उपदेशों से जुड़े हुए हैं। बौद्ध तीर्थस्थल न केवल बौद्ध धर्म के अनुयायियों बल्कि अन्य [...]

लखनऊ के आस-पास 5 शीर्ष सप्ताहांत गंतव्य

लखनऊ शहर को, कला की विकसित रुचि, एक परिष्कृत भाव ‘तहजीब’ और यात्रा करने योग्य कुछ अविश्वसनीय स्थानों के लिए काफी सराहा जाता है। हालांकि, इस सप्ताह के अंत में आप शहर की सीमा से हटकर कुछ अन्य बेहतर स्थानों पर जाने का विकल्प चुन सकते हैं। लखनऊ के आस-पास सप्ताहांत का आनंद लेने योग्य बहुत सारे खूबसूरत स्थान हैं। यदि आप घर से दूर एक आरामदायक सप्ताहांत मनाने का इंतजार कर रहे हैं या [...]

शिवडोल: शिवसागर का शिव मंदिर

  स्थान: शिवसागर, असम असम के शिवसागर शहर में बोरपुखुरी टैंक के किनारे स्थित, शिवडोल मंदिर भारत का सबसे विशाल शिव मंदिर है, जिसकी ऊँचाई 104 फीट है। स्थानीय असमिया भाषा में ‘डोल’ का अर्थ मंदिर होता है। यह मंदिर वर्ष 1734 में अहोम के राजा स्वर्ग देव शिबा सिंह की रानी द्वारा बनवाया गया था। सात फीट ऊँचे विशाल स्वर्ण गुंबद ‘कोलोसी’ के साथ सजा हुआ, यह मंदिर पूर्वोत्तर के सबसे पूज्यनीय स्थलों में [...]