Home / Politics / नवाज शरीफ और मरियम शरीफ की लाहौर पहुंचते ही हुई गिरफ्तारी

नवाज शरीफ और मरियम शरीफ की लाहौर पहुंचते ही हुई गिरफ्तारी

July 17, 2018
by


Please login to rate

नवाज शरीफ और मरियम शरीफ की लाहौर पहुंचते ही हुई गिरफ्तारी

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपनी बेटी मरियम के साथ लाहौर पहुँचे। हालांकि उनकी यह स्वदेश वापसी आम दिनों जैसी नहीं थी, लाहौर एयरपोर्ट पर नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज का विमान उतरते ही अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) की टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर अदियाला जेल भेज दिया। इतना ही नहीं गिरफ्तारी के बाद एफआईएकी टीम ने नवाज शरीफ और मरियम का पासपोर्ट भी जब्त कर लिया था। इसके अलावा नवाज और मरियम को स्पेशल एयरक्राफ्ट से इस्लामाबाद ले जाया गया।

किन आरोपों के तहत हुई गिरफ्तारी

आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोप के मामले में अकाउंटबिलिटी कोर्ट ने 6 जुलाई को नवाज शरीफ को सजा सुनाई थी। 2016 में पनामा पेपर स्कैंडल में नाम आने के बाद नवाज शरीफ को जुलाई, 2017 में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। जांच के बाद शरीफ और उनकी बेटी पर मनी लांड्रिंग का केस चलाया गया। भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने लंदन के एवनफील्ड में परिवार के चार फ्लैट के मामले में शरीफ, उनकी बेटी और दामाद को सजा दी है।

कितने साल की हुई सजा

बता दें कि भ्रष्टाचार की कमाई से लंदन में 4 आलीशान फ्लैट खरीदने के मामले में पाकिस्तान की अकाउंटेबिलिटी कोर्ट ने नवाज शरीफ को 10 साल की सजा सुनाई है। इस मामले में कोर्ट ने दोषी मानते हुए उनकी बेटी मरियम नवाज को सात साल और दामाद मोहम्मद सफदर को एक साल की सजा सुनाई है। इसके अलावा नवाज शरीफ पर करीब 73 करोड़ रुपये और मरियम नवाज पर 18 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

जानिए क्या कहा नवाज शरीफ ने पाकिस्तान की जनता से

पाकिस्तान वापसी के दौरान नवाज शरीफ ने फ्लाइट में ही एक बयान जारी करते हुए कहा कि मुझे मालूम है कि लाहौर पहुंचते ही मुझे जेलखाने भेज दिया जाएगा। मैं पाकिस्तान की कौम को यह बताना चाहता हूं कि मैं यह सब आपके लिए कर रहा हूं। ये कुर्बानी मैं आपकी नस्लों के लिए दे रहा हूं। उन्होंने देश की जनता से अपील करते हुए कहा कि वो कदम से कदम मिलाकर कर चलें और मुल्क की तकदीर बदलें। इसके साथ ही मरयम नवाज ने कहा कि ये मौके बार-बार नहीं आएंगे।

नवाज शरीफ ने लगाए पाकिस्तान की मौजूदा सरकार पर गंभीर आरोप

नवाज शरीफ ने मौजूदा सरकार पर एक बयान देते हुए कहा है, मैं यह जानता हूँ कि पंजाब सरकार हमारे हजारों प्रशंसकों को धर-पकड़ रही है। नवाज शरीफ ने लंदन छोड़ने से पहले कहा, ‘मैं जानता हूं कि लाहौर की तरफ आने वाली सड़कों को बंद कर दिया गया है। यही नहीं परिवहन के सारे मोड बंद कर दिए गए हैं जिससे की प्रशंसक लाहौर न पहुंच पाएं। उनकी पाकिस्तान वापसी से उनके दुश्मन परेशान हैं। जिस तरह से पंजाब सरकार उनके प्रशंसकों को गिरफ्तार कर रही है उससे यह पता लगता है कि देश में उनके काम को कितना सराहा जा रहा है। नवाज शरीफ ने द न्यूज को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि मेरे समर्थक मुझ पर विश्वास करते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि मैं भ्रष्टाचार के सभीआरोपों से बरी कर दिया जाऊंगा। मुझे एनएबी अदालत ने क्लीन चिट दी है और मैं खुद को सम्मानित महसूस कर रहा हूं। मेरा विश्वास दृढ़ है, राजनीति अनुमानों और धारणाओं पर आधारित होती है। शरीफ ने कहा कि 2018 के चुनाव और उसके परिणामों को प्रभावित करने के लिए उन्हें मोहरा बनाया जा रहा है।

जेल में बेहतर सुविधाएं लेने से किया इनकार

भ्रष्टाचार के मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शरीफ रावलपिंडी की अदियाला जेल में बंद हैं। इस बीच मरियम ने जेल में बेहतर सुविधाओं को लेने से इनकार कर दिया है। जेल प्रशासन की ओर से पूर्व पीएम और उनकी बेटी को बेहतर सुविधाओं का प्रस्ताव भी दिया गया था

पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव

पाकिस्तान में 25 जुलाई से आंम चुनाव होने हैं। इस मामले का असर पाकिस्तान के चुनाव पर पड़ेगा। जानकारों के हिसाब से तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख इमरान खान को इसका सबसे ज्यादा फायदा होगा। शरीफ के खिलाफ याचिका दायर करने वाले लोगों में इमरान खान भी शामिल थे।

मामले से जुड़े कुछ प्रमुख तथ्य

  • 4 अप्रैल, 2016- पनामा पेपर लीक मामले में शरीफ परिवार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा।
  • 5 अप्रैल 2016 – आरोपों से इन्कार करते हुए नवाज शरीफ ने जांच के लिए न्यायिक समिति का गठन किया।
  • 26 अप्रैल 2016 – विपक्षी पार्टियों ने सरकार द्वारा गठित न्यायिक आयोग को खारिज किया।
  • 1 नवम्बर 2016 – सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ से संबंधित मामले पर सुनवाई का फैसला लिया।
  • 7 नवंबर 2016 – पीएमएल-एन ने कतर के राजकुमार का पत्र सुप्रीम कोर्ट में पेश किया जिसमें लंदन के उस फ्लैट की सूचना थी।
  • 6 जनवरी 2017 – शरीफ की बेटी मरयम नवाज ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी संपत्ति का ब्यौरा पेश किया।
  • 20 अप्रैल 2017 – सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच के लिए संयुक्त जांच टीम गठित करने का आदेश दिया।
  • मई 2017 – पांच संयुक्त जांच दल गठित हुई।
  • 22 मई 2017 – संयुक्त जांच दल ने सुप्रीम कोर्ट में पहली रिपोर्ट पेश की।
  • 10 जुलाई 2017 – संयुक्त जांच दल ने अपनी अंतिम रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपी।
  • 28 जुलाई 2017 – सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय पीठ ने ध्वनिमत से नवाज शरीफ के खिलाफ फैसला सुनाया और उन्हें पद के अयोग्य ठहराया गया।
  • 13 अप्रैल, 2018 – सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ के राजनीतिक जीवन को प्रतिबंधित कर दिया।
  • 6 जुलाई,2018 – नैब अदालत ने भ्रष्टाचार का दोषी मानते हुए नवाज शरीफ को दस साल की सजा सुनाई।
  • 12 जुलाई 2018 – नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरयम नवाज लंदन से पाकिस्तान के लिए रवाना हुए।
  • 13 जुलाई 2018 – नवाज शरीफ और मरयम नवाज को लाहौर पहुंचते ही गिरफ्तार किया गया।