उत्तर प्रदेश का नक्शा

उत्तर प्रदेश का नक्शा

उत्तर प्रदेश का नक्शा
*उत्तर प्रदेश का नक्शा (मानचित्र) जिला, जिला मुख्यालय, पड़ोसी राज्यों एवं अंतर्राष्ट्रीय सीमा के साथ.

उत्तर प्रदेश के महत्वपूर्ण तथ्य

राज्यपाल राम नाईक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (भारतीय जनता पार्टी)
आधिकारिक वेबसाइट up.gov.in
स्थापना का दिन जनवरी 1950
क्षेत्रफल 240,928 वर्ग किमी
घनत्व 828 प्रति वर्ग किमी
जनसंख्या (2011) 199,812,341
पुरुषों की जनसंख्या (2011) 104,480,510
महिलाओं की जनसंख्या (2011) 95,331,831
जिले 75
राजधानी लखनऊ
धर्म हिंदू, इस्लाम, ईसाई, बौद्ध, जैन
नदियाँ गंगा, यमुना, सरयू, गोमती, रामगंगा
वन एवं राष्ट्रीय उद्यान दुधवा राष्ट्रीय उद्यान, किशनपुर वन्यजीव अभयारण्य, नवाबगंज पक्षी अभयारण्य आदि
भाषाएँ हिंदी, उर्दू, अंग्रेजी, अवधी, भोजपुरी, बुन्देली, ब्रज आदि
पड़ोसी राज्य उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार।
राजकीय पशु दलदली हिरण
राजकीय पक्षी सारस
राजकीय वृक्ष साल
राजकीय फूल पलाश
राजकीय नृत्य कथक
राजकीय खेल फील्ड हॉकी
नेट राज्य घरेलू उत्पाद (2011) 26355
साक्षरता दर (2011) 77.08%
1000 पुरुषों पर महिलायें 908
विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 403
संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 80

उत्तर प्रदेश के बारे में


उत्तर प्रदेश शब्द का वास्तव में अर्थ ‘उत्तरी प्रांत’ है और यह भारत के उत्तरी भाग में स्थित है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है, कानपुर इसकी औद्योगिक और आर्थिक राजधानी है।

उत्तर प्रदेश राज्य पड़ोसी देश नेपाल और उत्तर में उत्तराखंड राज्य से घिरा है। यह उत्तर-पश्चिम में दिल्ली और हरियाणा से, पश्चिम में राजस्थान से, दक्षिण-पश्चिम में मध्य प्रदेश से, पूर्व में बिहार और दक्षिण-पूर्व में झारखंड से घिरा है।

यह राज्य 2,40,928 वर्ग किलोमीटर में विस्तारित है और इसमें 75 जिले हैं। सन् 2011 की जनगणना के अनुसार यहां 19,98,12,341 से ज्यादा लोग रहते हैं और यह देश का सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य है। उत्तर प्रदेश में कई ऐतिहासिक, धार्मिक, प्राकृतिक और मानव निर्मित पर्यटन स्थल हैं, जैसे ताजमहल, कौशाम्बी, वाराणसी, कुशीनगर, चित्रकूट, लखनउ, झांसी, मेरठ, इलाहाबाद और मथुरा आदि।

उत्तर प्रदेश का पुराना नाम

प्राचीन काल से ही उत्तर प्रदेश एक महत्वपूर्ण राज्य रहा है, इसका कारन है यहाँ की नदियों द्वारा सिंचित भूमि, सर्वप्रथम इस राज्य को मध्य प्रान्त के नाम से जाना जाता था, फिर इस प्रान्त में अनेक राजवंसो का उदय हुआ और ये विभाजित हो गया, १९४७ से पूर्व तक इसको संयुक्त प्रान्त के नाम से जाना जाता था जिसमे अवध प्रान्त और ब्रज प्रान्त संयुक्त रूप से था।

उत्तरी प्रदेश का इतिहास


उत्तर प्रदेश में समृद्ध ऐतिहासिक विरासत है जिसका आज के उत्तर प्रदेश को परिभाषित करने में महत्वपूर्ण योगदान है। उत्तर प्रदेश का इतिहास आर्य काल तक पुराना है जब आर्यों ने आकर देश के मध्य में बस्तियों की स्थापना की। उस समय वे इसे ‘मध्यदेश’ कहते थे। इतिहास में यहां कई राजवंशों का शासन रहा। 1 सहस्त्राब्दी के मध्य के आसपास यहां भगवान बुद्ध का आगमन हुआ, जिन्होंने बौद्ध धर्म का प्रचार किया। भगवान बुद्ध ने अपना पहला धर्मोपदेश उत्तर प्रदेश के सारनाथ में दिया, जो कि वाराणसी जिले में स्थित है। उस समय इस क्षेत्र पर मगध का राज था। इसके बाद नंदा राजवंश और फिर मौर्य का शासन यहां आया।

इस राज्य की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि बहुत हद तक मुस्लिम शासन की शुरुआत से जुड़ी है। इस समय में राजपूतों की हार देखी गई। मुगल शासन के दौरान, खासकर अकबर के शासन काल में इस राज्य की समृिद्ध अपने उत्कर्ष पर थी। मुगल शासन के दौरान ही राज्य में कुछ ऐतिहासिक स्मारकों का निर्माण हुआ जिनका नाम हमेशा इतिहास में दर्ज रहेगा।

जैसे जैसे समय बीतता गया, उत्तर प्रदेश में मुगल शासन का पतन हुआ और ब्रिटिश शासन की शुरुआत हुई। मुगलों का प्रभाव सिर्फ दोआब क्षेत्र तक ही सीमित रह गया। सन् 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में उत्तर प्रदेश राज्य की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण थी। उत्तर प्रदेश में कई राजवंशों का राज रहा जिनमें शामिल हैं:
  • नंदा
  • मौर्य
  • राष्ट्रकूट
  • मगध
  • गुप्त
  • गुर्जर
  • शुंग
  • कुषाण
  • पाल राज्य
  • मुगल

उत्तर प्रदेश का भूगोल और मौसम


उत्तर प्रदेश राज्य का कुल क्षेत्र 2,40,928 वर्ग किलोमीटर में फैला है और यह भारत के उत्तरी भाग में स्थित है। यह राज्य अपनी अंतर्राष्ट्रीय सीमा नेपाल से साझा करता है। राज्य का ज्यादातर क्षेत्र मैदानी है और हिमालय राज्य के उत्तरी भाग में स्थित है। उत्तर प्रदेश को तीन भागों में बांटा जा सकता है जिसमें पहला उत्तर में हिमालय क्षेत्र है। यह बहुत बीहड़ और विविध क्षेत्र है। इसकी टोपोग्राफी 300 मीटर से 5000 मीटर की उंचाई तक पहुंचते पहुंचते भिन्न होती जाती है। दूसरा भाग मध्य में स्थित गंगा के मैदानी इलाके हैं। यह बहुुत उपजाउ जलोढ़ मिट्टी वाला क्षेत्र है और इसका लैंडस्केप सपाट है। यहां कई झीलें और नदियां आदि हैं। तीसरा भाग दक्षिण में विंध्य पर्वत और पठार का है। इसमें कई सख्त चट्टानों की परत है और मैदानों, पहाड़ों, घाटियों और पठार की विविध टोपोग्राफी है। इस क्षेत्र में पानी सीमित है। यह राज्य भारत के जिन राज्यों से अपनी सीमा साझा करता है वह हैं:

उत्तर प्रदेश की प्रमुख नदियां यमुना, गंगा, घाघरा और सरयू हैं। कृषि के महत्व के अलावा इन नदियों का धार्मिक महत्व भी बहुत है। इस क्षेत्र का मौसम मुख्यतः सबट्राॅपिकल विशेषता वाला है। इसमें चार प्रकार के मौसम और नम संतुलित मौसम होता है।

उत्तर प्रदेश में ट्राॅपिकल मानसून प्रकार की जलवायु है जिसमें उंचाई के साथ बदलाव आते हैं। हिमालय क्षेत्र बहुत ठंडा है और मैदानी इलाकों में मौसम के साथ साथ तापमान में परिवर्तन आता है। राज्य में तीन अलग मौसम होते हैं। सर्दियां अक्टूबर से फरवरी, गर्मियां मार्च से मध्य जून और बरसात का मौसम जून से सितंबर का होता है।

मैदानी इलाकों में पूर्व में सबसे ज्यादा बरसात होती है और बाढ़ यहां की बार-बार आने वाली एक समस्या है। बाढ़ से फसलों, संपत्ति और जीवन को बहुत नुकसान होता है। गर्मियां सूखी और गर्म होती हैं जिसमें औसत 45 डिग्री तापमान के साथ धूल भरी हवाएं भी होती हैं। सालाना बरसात औसत तौर पर 990 मिमी. होती है जिसमें से 85 प्रतिशत मानसून में होती है। बरसात के दिनों में तापमान में थोड़ी कमी आती है। सर्दियां बहुत ठंडी होती हैं जिसमें पारा 4 डिग्री तक गिर जाता है और कोहरे से राज्य के कई इलाकों में हालात पर असर पड़ता है।

उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था


अर्थव्यवस्था के हिसाब से उत्तर प्रदेश भारत का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। राज्य की अर्थव्यवस्था के सबसे बड़े भाग कृषि और सेवा क्षेत्र हैं। सेवा क्षेत्रों में यात्रा, पर्यटन और होटल उद्योग, रियल एस्टेट, वित्तीय और बीमा परामर्शी शामिल हैं। उत्तर प्रदेश का प्रमुख व्यवसाय कृषि है। गेंहू मुख्य फसल और गन्ना मुख्य वाणिज्यिक फसल है। देश का लगभग 70 प्रतिशत गन्ना उत्तर प्रदेश से आता है। राज्य में स्थानीय और बड़े उद्योग हैं जो स्टील, टेक्सटाइल, इलेक्ट्रानिक, चमड़े, केबल, इंजीनियरिंग उत्पाद, आॅटोमोबाइल, रेलवे कोच और वेगन, विद्युत उपकरण आदि का निर्माण करते हैं। राज्य में कई लघु उद्योग इकाइयां भी हैं। उत्तर प्रदेश साॅफ्टवेयर और इलेक्ट्राॅनिक के क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश भी आकर्षित कर रहा है। लखनउ और नोएडा सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग का हब भी बनते जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश की जनसांख्यिकी


उत्तर प्रदेश राज्य में 199.8 मिलीयन लोग हैं जो इसे आबादी के मामले में देश का सबसे बड़ा राज्य बनाते हैं। सन् 2011 की जनगणना के अनुसार राज्य की जनसंख्या में विभिन्न समुदायों की स्थिति इस प्रकार हैः
  1. हिंदू लगभग 80 प्रतिशत हैं
  2. मुस्लिम लगभग 18 प्रतिशत हैं
  3. अन्य समुदायों में बौद्ध, सिख, जैन और ईसाई हैं।

उत्तर प्रदेश में सरकार और राजनीति


उत्तर प्रदेश से सबसे ज्यादा संख्या में सदस्य संसद में जाते हैं। भारतीय संसद में लोक सभा में इस राज्य की 80 सीटें और राज्य सभा में 31 सीटें हैं। इस राज्य ने देश को आठ प्रधान मंत्री दिए हैं।

उत्तर प्रदेश की सरकार भारत की एक द्विसदनीय विधायिका है। यह एक लोकतांत्रिक ढंग से निर्वाचित निकाय है जिसका प्रमुख राज्यपाल होता है। राज्यपाल का कार्यकाल पांच साल का होता है। राज्यपाल राज्य का औपचारिक प्रमुख होता है जो मुख्यमंत्री और मंत्रियों की परिषद को नियुक्त करता है। हालांकि राज्यपाल राज्य का प्रमुख होता है लेकिन राज्य के दिन-प्रतिदिन के कामकाज का प्रबंधन मुख्यमंत्री और मंत्री परिषद द्वारा किया जाता है। मंत्रियों की परिषद में राज्य मंत्री, केबिनेट मंत्री और उप मंत्री शामिल होते है। मंत्रियों की परिषद का सहायक राज्यपाल का सचिव होता है जो कि सचिवालय का प्रमुख होता है।

समाज और संस्कृति


राज्य की संस्कृति और समाज की जड़ें यहां की परंपरा, साहित्य, कला और इतिहास की जड़ों में हैं। उत्तर प्रदेश की संस्कृति बहुरंगी है और समय के साथ यह बहुत समृद्ध हुई है। इसे सांस्कृतिक विविधता का वरदान प्राप्त है। राज्य में अनेक धार्मिक स्थल और तीर्थ स्थान हैं जहां कई श्रद्धालु जाते हैं। इस राज्य से बहने वाली दो पवित्र नदियों गंगा और यमुना का वर्णन भारतीय पुराणों में भी है।

उत्तर प्रदेश भारत के शीर्ष पर्यटन स्थलों में से एक है। आगरा शहर में विश्व के सात अजूबों में से एक अजूबा ताजमहल है। वाराणसी को विश्व के सबसे पुराने शहरों में से एक माना जाता है। उत्तर प्रदेश में कुंभ मेले का आयोजन होता है जिसमें एक करोड़ से ज्यादा हिंदू श्रद्धालु पवित्र नदी में स्नान करते हैं। इसे दुनिया में मानवों का सबसे बड़ा धार्मिक सम्मेलन माना जाता है।

राज्य में एक प्राचीन नृत्य और संगीत परंपरा है। कथक एक शास्त्रीय नृत्य रुप है जो यहां निखरा और बढ़ा है। रसिया गीत भी यहां की लोक विरासत में हैं जो राधा और कृष्ण के दिव्य प्रेम को दर्शाते हैं। कुछ अन्य लोक नृत्य और नाटक की शैलियों में रासलीला, रामलीला, नौटंकी, ख्याल, कव्वाली आदि हैं।

धार्मिक प्रथाएं और त्यौहार राज्य के समाज और संस्कृति का अभिन्न अंग हैं, ठीक वैसे ही जैसे वो भारत में अन्य स्थानों पर हैं। जाति और धर्म से परे यहां कई त्यौहार मनाए जाते हैं। सबसे महत्वपूर्ण हिंदू त्यौहारों में दीपावली, होली, दशहरा, नवरात्र, ईद, महावीर जयंती और बुद्ध जयंती हैं।

भाषाएं


उत्तर प्रदेश में वैदिक साहित्य के कई ग्रंथ और भजनों की रचना की हुई है। इन ग्रंथों में संस्कृत साहित्य की सबसे पुरानी कृतियां और हिंदू धर्म के प्राचीन शास्त्र शामिल हैं। इस राज्य को कई बार ‘भारत की हिंदू पट्टी’ भी कहा जाता है। हिंदी सन् 1951 के भाषा अधिनियम के तहत आधिकारिक भाषा बनी। सन् 1989 मेें इस अधिनियम में बदलाव करके उर्दू को उत्तर प्रदेश की अन्य मूल भाषा बनाया गया। यहां की पांच प्रमुख मूल भाषाएं अवधी, ब्रज भाषा, बुन्देली, कन्नौजी और खड़ी बोली हैं।

उत्तर प्रदेश में मेले और त्यौहार


बाराबंकी से 10 किलोमीटर दूर देवा में हर साल हाजी वारिस अली शाह के पवित्र स्थल पर देव मेला आयोजित होता है। अक्टूबर और नवंबर के महीने में बाराबंकी में आयोजित होने वाला यह देव मेला उत्तर प्रदेश और भारत के सांप्रदायिक सद्भाव को दर्शाता है। यहां खेल, संगीत, कवि सम्मेलन और खरीददारी के कई बड़े अवसर होते हैं। यह मुख्यतः एक धार्मिक मेला है जिसमें भारत, पाकिस्तान और मध्य पूर्व के भागों से श्रद्धालु आते हैं। यह मुख्य रुप से मुस्लिम धार्मिक अवसर है। उर्स या सूफी संत हाजी वारिस अली शाह की याद में भारत भर से मुस्लिम यहां आते हैं। उत्तर प्रदेश के अन्य मशहूर त्यौहार हैं:
  • होली
  • मुहर्रम
  • छठ पूजा
  • दीपावली
  • बुद्ध जयंती
  • राम नवमीं
  • दशहरा
  • महावीर जयंती
  • कृष्ण जन्माष्टमी
  • ईद
  • गुरु नानक जयंती
  • महाशिवरात्री
  • बारह वफत
  • क्रिसमस
  • बकरीद

उत्तर प्रदेश में शिक्षा


उत्तर प्रदेश में विश्व के कुछ सबसे प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान हैं। भारत के अन्य विकसित राज्यों की तरह उत्तर प्रदेश ने भी देश में शिक्षा के क्षेत्र मेें बहुत योगदान दिया है। पिछले कुछ सालों में राज्य सरकार ने शिक्षा में विभिन्न स्तरों पर बहुत निवेश किया है। सरकार ने राज्य में शिक्षा के परिदृश्य में सुधार के लिए निजी क्षेत्र के योगदान को भी स्वीकारा है और उसकी सराहना भी की है।

उत्तर प्रदेश में पर्यटन


उत्तर प्रदेश के पर्यटन स्थलों की अगर बात करें तो हिमालय की संुदर तलहटियों के बारे में बहुत कुछ कहा जा सकता है। खूबसूरत लैंडस्केप में स्थित हिमालय के पर्यटन स्थल सैलानियों के पसंदीदा स्थान हैं। अपनी समृद्ध और विविध टोपोग्राफी, जीवंत संस्कृति, त्यौहारों, स्मारकों और प्राचीन धार्मिक जगहों के कारण उत्तर प्रदेश घरेलू पर्यटकों के मामले में 71 मिलीयन से ज्यादा के सालाना आंकड़े के साथ पहले स्थान पर है। राज्य में कुछ मशहूर रुचिकर स्थानों में हैं: मंदिरों का शहर वाराणसी, आगरा - विश्व के सात अजूबों में से एक ताजमहल के लिए प्रसिद्ध, इलाहाबाद - कुंभ मेले के लिए मशहूर, कानपुर - उत्तर प्रदेश का व्यवसायिक और वाणिज्यिक हब, लखनउ - उत्तर प्रदेश की राजधानी, मथुरा, वृंदावन, अयोध्या, झांसी, सारनाथ - जहां गौतम बुद्ध ने धर्म पर पहला उपदेश दिया था, कुशीनगर - माना जाता है कि गौतम बुद्ध ने मृत्यु के बाद यहां निर्वाण पाया था, मेरठ, मिर्जापुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, नोएडा और ग्रेटर नोएडा - आईटी, इलेक्ट्रिॅानिक और शिक्षा हब, आदि।

उत्तर प्रदेश के शीर्ष पर्यटक आकर्षण हैं:

उत्तर प्रदेश में परिवहन


उत्तर प्रदेश में परिवहन के विभिन्न साधनों द्वारा आसानी से पहुंचा जा सकता है। राज्य में दो अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे हैं - वाराणसी का लाल बहाहुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा और लखनउ का चौधरी चरण सिंह अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट। इसके अलावा राज्य में चार घरेलू हवाई अड्डे भी हैं। उत्तर प्रदेश में देश का सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है। गोरखपुर और इलाहाबाद पूर्वोत्तर रेलवे और उत्तर मध्य रेलवे के मुख्यालय हैं। बहुत बड़े सड़क नेटवर्क के कारण यह राज्य देश में नौ पड़ोसी राज्यों से भी जुड़ा है। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम राज्य के भीतर और आस पास के राज्यों में अपनी सेवाएं संचालित करता है।
 

उत्तर प्रदेश के जिले

 
क्र.सं. जिला का नाम जिला मुख्यालय जनसंख्या (2011) विकास दर लिंग अनुपात साक्षरता क्षेत्र (वर्ग किमी) घनत्व (/ वर्ग किमी)
1 आगरा जिला आगरा 4418797 22.05% 868 71.58 4027 1084
2 अलीगढ़ जिला अलीगढ़ 3673889 22.78% 882 67.52 3747 1007
3 इलाहाबाद जिला इलाहाबाद 5954391 20.63% 901 72.32 5481 1087
4 अम्बेडकर नगर जिला अकबरपुर 2397888 18.30% 978 72.23 2372 1021
5 अमेठी (छत्रपति शाहूजी महाराज नगर) जिला गौरीगंज * * * * * *
6 औरैया जिला औरैया 1379545 16.91% 864 78.95 2051 681
7 आजमगढ़ जिला आजमगढ़ 4613913 17.11% 1019 70.93 4053 1139
8 बागपत जिला बागपत 1303048 11.95% 861 72.01 1345 986
9 बहराइच जिला बहराइच 3487731 46.48% 892 49.36 4926 415
10 बलिया जिला बलिया 3239774 17.31% 937 70.94 2981 1081
11 बलरामपुर जिला बलरामपुर 2148665 27.72% 928 49.51 3349 642
12 बांदा जिला बांदा 1799410 17.05% 863 66.67 4413 404
13 बाराबंकी जिला बाराबंकी 3260699 21.96% 910 61.75 3825 739
14 बरेली जिला बरेली 4448359 22.93% 887 58.49 4120 1084
15 बस्ती जिला बस्ती 2464464 18.21% 963 67.22 2687 916
16 बिजनौर जिला बिजनौर 3682713 17.60% 917 68.48 4561 808
17 बदायूं जिला बदायूं 3681896 19.95% 871 51.29 5168 718
18 बुलंदशहर जिला बुलंदशहर 3499171 20.12% 896 68.88 3719 788
19 चंदौली जिला चंदौली 1952756 18.83% 918 71.48 2554 768
20 चित्रकूट जिला चित्रकूट 991730 29.43% 879 65.05 3202 315
21 देवरिया जिला देवरिया 3100946 14.31% 1017 71.13 2535 1220
22 एटा जिला एटा 1774480 13.62% 873 70.81 2456 717
23 इटावा जिला इटावा 1581810 18.15% 870 78.41 2287 683
24 फैजाबाद जिला फैजाबाद 2470996 18.29% 962 68.73 2765 1054
25 फर्रुखाबाद जिला फतेहगढ़ 1885204 20.05% 874 69.04 2279 865
26 फतेहपुर जिला फतेहपुर 2632733 14.05% 901 67.43 4152 634
27 फिरोजाबाद जिला फिरोजाबाद 2498156 21.69% 875 71.92 2361 1044
28 गौतम बुद्ध नगर जिला नोएडा 1648115 37.11% 851 80.12 1269 1252
29 गाजियाबाद जिला गाजियाबाद 4681645 42.27% 881 78.07 1175 3967
30 गाज़ीपुर जिला गाज़ीपुर 3620268 19.18% 952 71.78 3377 1072
31 गोंडा जिला गोंडा 3433919 24.17% 921 58.71 4425 857
32 गोरखपुर जिला गोरखपुर 4440895 17.81% 950 70.83 3325 1336
33 हमीरपुर जिला हमीरपुर 1104285 5.80% 861 68.77 4325 268
34 हापुड़ (पंचशील नगर जिले) जिला हापुड़ * * * * * *
35 हरदोई जिला हरदोई 4092845 20.44% 868 64.57 5986 683
36 हाथरस (महामाया नगर) जिला हाथरस 1564708 17.12% 871 71.59 1752 851
37 जालौन जिला उरई 1689974 16.19% 865 73.75 4565 366
38 जौनपुर जिला जौनपुर 4494204 14.89% 1024 71.55 4038 1108
39 झाँसी जिला झाँसी 1998603 14.54% 890 75.05 5024 398
40 अमरोहा जिला अमरोहा 1840221 22.76% 910 63.84 2321 818
41 कन्नौज जिला कन्नौज 1656616 19.27% 879 72.7 1993 792
42 कानपुर देहात (रमाबाई नगर) जिला अकबरपुर (माटी) 1796184 14.89% 865 75.78 3021 594
43 कानपुर नगर कानपुर जिला 4581268 9.92% 862 79.65 3156 1415
44 कासगंज (कांशीराम नगर) जिला कासगंज 1436719 16.93% 880 61.02 1955 736
45 कौशाम्बी जिला मंझनपुर 1599596 23.70% 908 61.28 1837 897
46 खीरी जिला पडरौना 4021243 25.38% 894 60.56 2909 1226
47 कुशीनगर जिला लखीमपुर 3564544 23.20% 961 65.25 7674 523
48 ललितपुर जिला ललितपुर 1221592 24.94% 906 63.52 5039 242
49 लखनऊ जिला लखनऊ 4589838 25.82% 917 77.29 2528 1815
50 महाराजगंज जिला महाराजगंज 2684703 23.50% 943 62.76 2953 903
51 महोबा जिला महोबा 875958 23.64% 878 65.27 2847 288
52 मैनपुरी जिला मैनपुरी 1868529 17.02% 881 75.99 2760 670
53 मथुरा जिला मथुरा 2547184 22.78% 863 70.36 3333 761
54 मऊ जिला मऊ 2205968 18.98% 979 73.09 1713 1287
55 मेरठ जिला मेरठ 3443689 14.89% 886 72.84 2522 1342
56 मिर्जापुर जिला मिर्जापुर 2496970 18.00% 903 68.48 4522 561
57 मुरादाबाद जिला मुरादाबाद 4772006 25.22% 906 56.77 3718 1284
58 मुजफ्फरनगर जिला मुजफ्फरनगर 4143512 16.94% 889 69.12 4008 1033
59 पीलीभीत जिला पीलीभीत 2031007 23.45% 895 61.47 3499 567
60 प्रतापगढ़ जिला प्रतापगढ़ 3209141 17.50% 998 70.09 3717 854
61 रायबरेली जिला रायबरेली 3405559 18.56% 943 67.25 4609 739
62 रामपुर जिला रामपुर 2335819 21.42% 909 53.34 2367 987
63 सहारनपुर जिला सहारनपुर 3466382 19.66% 890 70.49 3689 939
64 सम्भल (भीम नगर) जिला सम्भल * * * * * *
65 संत कबीर नगर जिला खलीलाबाद 1715183 20.77% 972 66.72 1442 1014
66 संत रविदास नगर जिला ज्ञानपुर 1578213 16.58% 955 68.97 960 1531
67 शाहजहाँपुर जिला शाहजहाँपुर 3006538 18.00% 872 59.54 4575 673
68 शामली जिला शामली * * * * * *
69 श्रावस्ती जिला श्रावस्ती 1117361 -5.02% 881 46.74 1948 572
70 सिद्धार्थ नगर जिला नौगढ़ 2559297 25.45% 976 59.25 2751 882
71 सीतापुर जिला सीतापुर 4483992 23.88% 888 61.12 5743 779
72 सोनभद्र जिला; राबर्ट्सगंज 1862559 27.27% 918 64.03 6788 274
73 सुल्तानपुर जिला सुल्तानपुर 3797117 18.11% 983 69.27 4436 855
74 उन्नाव जिला उन्नाव 3108367 15.11% 907 66.37 4561 682
75 वाराणसी जिला वाराणसी 3676841 17.15% 913 75.6 1535 2399

उत्तर प्रदेश में 75 ज़िले है

Last Updated On: June 12, 2018