Home / Politics / मिर्जापुर को पीएम मोदी द्वारा परियोजनाओं की सौगात

मिर्जापुर को पीएम मोदी द्वारा परियोजनाओं की सौगात

July 17, 2018
by


Please login to rate

मिर्जापुर को पीएम मोदी द्वारा परियोजनाओं की सौगात

दो दिन के पूर्वांचल दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार की सुबह मां विंध्यवासिनी की धरती को प्रणाम किया। आजमगढ़ और वाराणसी की तरह मिर्जापुर में भी मोदी ने अपने भाषण की शुरूआत भोजपुरी भाषा में करके लोगों का दिल जीत लिया। वैसे भी मोदी के भाषण भी मोदी की तरह काफी लोकप्रिय हैं। इसके अलावा पीएम मोदी ने मिर्जापुर को चार बड़ी परियोजनाओं की सौगात दी। यहां पीएम मोदी ने बाणसागर परियोजना के उद्घाटन के साथ-साथ, 108 जन औषधि केंद्र, मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास और चुनार में बनारस और मिर्जापुर को जोड़ने वाले पुल का उद्घाटन भी किया।

एशिया की सबसे बड़ी नहर परियोजना

उत्तर प्रदेश के हिस्से की ऐतिहासिक बाणसागर नहर परियोजना का कार्य 1997 में शुरू हुआ था। एशिया की इस सबसे बड़ी परियोजना पर लगभग 3500 करोड़ रुपए का खर्च आया है। 170 किमी टनल व नहर के माध्यम से परियोजना को पूरा किया गया है। बाण सागर परियोजना से मध्यप्रदेश में 1.54 लाख हेक्टेयर, उत्तर प्रदेश में 1.50 लाख हेक्टेयर और बिहार राज्य में 94 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी।

इन सब चीजों के बाद हम बात करेगें उन मुख्य बातों की जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण के दौरान कही थी और जो काफी महत्वपूर्ण भी है। अपने कार्यो को जनता तक पहुचानें और उनकी गिनती करवानें में तो बीजेपी माहिर हैं। 2019 में होने वाले आम चुनावों से पहले मोदी सरकार कई बड़ी योजनाओं को लाने की तैयारी कर रही हैॉ

रैली के दौरान विपक्ष पर बोला हमला

रैली किसी भी पार्टी की हो लेकिन अगर उस रैली में विपक्ष के खिलाफ दो शब्द न बोले जाए तो वह रैली किस काम की। पीएम मोदी ने भी एमएसपी की चर्चा की और कहा पहले सिर्फ घोषणाएं होती थीं लेकिन काम नहीं होता था। किसान के घर में कभी कुछ नहीं गया। पहले की सरकारों के पास दाम बढाने के लिए फाइलें आती थीं और पड़ी रहती थीं। सालों पहले इन योजनाओं की सिफारिश हो चुकी थी लेकिन राजनीति करने वालों को इस बारे में सोचने की फुर्सत नहीं थी। इसके साथ ही 2019 के आम चुनावों को देखते हुए मोदी ने अपने भाषण में सोनेलाल पटेल का नाम लेकर पहले ही पटेल वोटरों को लुभाने की कोशिश की।

रैली के दौरान मोदी द्वारा कही गई प्रमुख बातें

  • मोदी ने पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा पहले घोषणाएं होती थीं पर पूरी नहीं होती थी। किसान के घर में कभी कुछ नहीं गया। पहले की सरकारों के पास दाम बढाने के लिए फाइलें आती थीं और पड़ी रहती थी। सालों पहले यह सिफारिश हो चुकी थी लेकिन राजनीति करने वालों को इस बारे में सोचने की फुर्सत नहीं थी।
  • प्रधानमंत्री मोदी की जनसभा में सोनभद्र के सांसद छोटेलाल खरवार भी नजर आए। पिछले दिनों मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक बीजेपी के इस बार चुनाव में उन्हें टिकट न देने की अटकलें लगायी जा रही हैं। पर खरवार पीएम मोदी के साथ मंच पर मौजूद रहे।
  • प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ की। उन्होनें  बाणसागर परियोजना पूरा करने के लिये भी बधाई दी। कहा कि सीएम योगी के राज में यूपी तरक्की कर रहा है
  • इसके अलावा मोदी ने मीडिया पर भी सवाल खड़ा किया और कहा कि एक रिपोर्ट से पता चला है कि पिछले दो साल में पांच करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर आ गए। पर यह खबर कहीं नहीं आयी। शायद कहीं किसी कोने में छपी हो तो हो। इस दौरान उन्होंने शिकायती अंदाज में ये भी कहा कि सरकार की नेगेटिव रिपोर्ट होती तो अब तक इस पर खूब हो हल्ला मच जाता।
  • पीएम मोदी ने बांस की खेती को लेकर कहा कि अगरबत्ती और पतंग बनाने के लिये बांस विदेश से आयात करना पड़ता था। ऐसा इसलिये क्योंकि किसान इसे अपने तरीके से नहीं उगा सकता था। हमारी सरकार ने बांस को वृक्ष से घास की श्रेणी में रख दिया। अब किसान इसे अपने खेतों की मेड़ों पर उगाकर लाभ कमा रहे हैं। उन्होंने किसानों से आय बढ़ाने के लिये योजनाओं और इस तरह की विधियां अपनाने को कहा।
  • मिर्जापुर में 100 जन औषधि का करते हुए पीएम मोदी ने कहा है कि यहां दवाएं और चिकित्सकीय सामान सस्ते दाम पर उपलबध रहेंगे। देश भर में ऐसे साढ़े तीन हजार केन्द्र खेले जा चुके हैं। आठ सौ से अधिक दवाओं के मूल्य नियंत्रित किये गए हैं। इससे लोगों के पैसे बचे हैं।

फिलहाल मिर्जापुर की रैली 2019 को ध्यान में रख कर की गई इस बात में तो कोई संदेह नहीं हैं।