चेन्नई में विक्टरी वॉर मेमोरियल

चेन्नई या मद्रास को दक्षिण भारत का प्रवेश द्वार माना जाता है। प्रतिष्ठित मरीना बीच चैन्नई स्थित विश्व के कुछ सबसे बड़े समुद्र तटों में से एक है। चैन्नई का विक्टरी वाॅर मेमोरियल या क्यूपिड्स बाॅ यहां के दो युुद्ध स्मारकों में से एक है। दूसरा युद्ध स्मारक मद्रास वाॅर सेमेट्री है। यह स्मारक मरीना बीच की शुरुआत में सेंट जाॅर्ज किले के पास है।

मूलतः विक्टरी वाॅर मेमोरियल का निर्माण द्वितीय विश्व युद्ध में मित्र देशों की सेनाओं की स्मृति में बनाया गया। यह ब्रिटिश क्राउन की सेवा में मद्रास प्रेसिडेंसी के सैनिकों के दिये बलिदान का स्मारक है। अब इसमें सन् 1948 का कश्मीर आक्रमण, सन् 1962 का चीन युद्ध, भारत पाक युद्ध और कारगिल आॅपरेशन से जुड़े शिलालेख भी जोड़े गए हैं। स्मारक का निर्माण संगमरमर से किया गया है और यहां एक गोल चट्टान भी है जिसमें एक तटीय घंटाघर हुआ करता था। सेनाओं द्वारा यहां हमेशा से जनवरी 15-सेना दिवस, अक्टूबर 27-इंफेंट्ररी दिवस, नवंबर 18-एनसीसी दिवस, दिसंबर 3-नौसेना दिवस और दिसंबर-16 विजय दिवस पर शहीदों को सम्मान दिया जाता है।

इस स्मारक पर देश की सेवा करते हुए शहीद हुए वीरों को सम्मान और श्रद्धांजलि देने जरुर जाना चाहिये।

चेन्नई में देखने योग्य स्थान
राजकीय संग्रहालयकंडास्वामी मंदिर
विवेकानंद हाउसडैश-एन-स्प्लैश
विक्टरी वॉर मेमोरियलकोवलोंग समुद्र तट
कट्टूबावा मस्जिदअयप्पा मंदिर
बड़ी मस्जिदवीजीपी यूनिवर्सल किंगडम
पार्थसारथी मंदिरवाडापलानी मंदिर


अंतिम संशोधन : नवंबर 7, 2014