Home / Education / सीबीएसई 10वीं कक्षा के परिणाम घोषित: खत्म हुआ इंतजार

सीबीएसई 10वीं कक्षा के परिणाम घोषित: खत्म हुआ इंतजार

May 30, 2018
by


सीबीएसई 10वीं कक्षा के परिणाम घोषित: खत्म हुआ इंतजार

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद ने दसवीं कक्षा के परिणाम घोषित कर दिए हैं। केंद्रीय बोर्ड ने 10वीं कक्षा की परीक्षा मार्च के महीने में निर्धारित की थी, लेकिन गणित का प्रश्न पत्र लीक होने के कारण यह परीक्षा विवादों में घिरी रही। इस साल 10वीं कक्षा के परिणाम में चार छात्रों ने 500 में से 499 अंक प्राप्त किए हैं, जबकि 16,38,428 विद्यार्थियों में से लगभग 87 प्रतिशत छात्रों ने 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है। डीपीएस (गुड़गांव) से प्रखर मित्तल, आर पी पब्लिक स्कूल (बिजनो) से रिमझिम अग्रवाल; स्कॉटिश इंटरनेशनल स्कूल (शामली) से नंदिनी गर्ग और भवन विद्यालय (कोचीन) से श्रीलक्ष्मी जी ने 499 अंको की प्राप्ति के साथ अपने माता-पिता और अल्मा मेटर स्कूल को गौरवान्वित किया है।

सीबीएसई ने सतत् एवं व्यापक मूल्यांकन (सीसीई) रद्द कर बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के फैसले के बाद कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा देने वाला यह पहला बैच है, जहांँ सात साल बाद स्कूलों ने बहुमत के साथ मूल्यांकन किया है, क्योंकि बोर्ड, वार्षिक बोर्ड परीक्षा के अपने पहले प्रारूप में लौट आया है। यह परिवर्तन परिणामों के साथ देखने को मिला है क्योंकि 2017 का परिणाम 99.03 प्रतिशत से घटकर 2018 में 86.7 प्रतिशत रह गया है। तिरुवनंतपुरम के सभी सीबीएसई स्कूलों में 99.60 प्रतिशत छात्र पूर्ण अंको के साथ उत्तीर्ण हुए हैं, जबकि चेन्नई 97.37 प्रतिशत उत्तीर्ण छात्रों के साथ दूसरे स्थान पर रहा है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर उन सभी छात्रों को बधाई देने के लिए तत्पर थे जिन्होंने 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की, जबकि कुछ बच्चों को सांत्वना देकर कंपार्टमेंट के लिए प्रेरित किया।

सीबीएसई की वेबसाइट पर पहली बार ट्रैफिक को कम करने के लिए, जिससे कभी-कभी वेबसाइट पर अधिक नतीजे देखने से ट्रैफिक बढ़ जाता था और वेबसाइट क्रेस हो जाती थी, सर्च इंजन जैसे गूगल और विंग को शामिल किया गया है ताकि छात्र अपने परीक्षा परिणामों को ठीक से देख सकें। इसके अलावा, छात्र माइक्रोसॉफ्ट के एंड्रॉइड ऐप एसएमएस ऑर्गनाइजर के माध्यम से एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर ऑफलाइन परिणाम देख सकते हैं।

दूसरी तरफ, दिल्ली पुलिस ने हाल ही में हुए पेपर लीक घोटाले में शामिल छात्रों की सूची जमा कर दी, जिससे इस वर्ष बोर्ड परीक्षाओं में शामिल 10वीं कक्षा और 12वीं के लाखों छात्र सदमे में आ गए थे। कक्षा 10वीं का गणित और कक्षा 12वीं का अर्थशास्त्र के प्रश्न पत्र निर्धारित परीक्षाओं से पहले लीक कर दिए गए थे। 12वीं कक्षा के छात्रों को 25 अप्रैल को अर्थशास्त्र की परीक्षा देने के लिए फिर से उपस्थित होना पड़ा, जबकि बोर्ड ने कक्षा 10वीं की गणित परीक्षा का पुनर्परीक्षण करने का फैसला किया था।

सारांश
लेख का नाम-    सीबीएसई 10वीं कक्षा के परिणाम घोषित: खत्म हुआ इंतजार

लेखक का नाम-  वैभव चक्रवर्ती

विवरण-         केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद ने कक्षा दसवीं के परिणाम घोषित कर दिए हैं। केंद्रीय बोर्ड ने 10वीं कक्षा की परीक्षा मार्च के महीने में निर्धारित की थी, लेकिन गणित का प्रश्न पत्र लीक होने के कारण यह परीक्षा विवादों में घिरी रही। इस साल 10वीं कक्षा के परिणाम में चार छात्रों ने 500 में से 499 अंक प्राप्त किए हैं।