Home / Education / जीआरई में कैसे प्राप्त करें 330 अंक?

जीआरई में कैसे प्राप्त करें 330 अंक?

July 16, 2018
by


Please login to rate

जीआरई में कैसे प्राप्त करें 330 अंक?

जीआरई (ग्रेजुएट रिकॉर्ड एक्जामिनेशन) एक अमेरिकी आधारित संगठन, शैक्षणिक परीक्षण सेवा (ईटीएस) द्वारा आयोजित मानकीकृत परीक्षण है, जिसमें लाखों छात्र दुनिया भर के विभिन्न स्नातक या बिजनेस स्कूलों में प्रवेश प्राप्त करते हैं। जीआरई परीक्षण 2018, 160 से अधिक देशों में 1000 से अधिक परीक्षण केंद्रों पर उपलब्ध है। इसमें तीन प्रमुख अनुभाग शामिल हैं- विश्लेषणात्मक लेखन, मौखिक तर्क और मात्रात्मक तर्क। मास्टर डिग्री, विशेष मास्टर कोर्स, एमएस, एमबीए, एमईएम या डॉक्टरेट की डिग्री चाहने वाले इच्छुक उम्मीदवार जीआरई टेस्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं।

जीआरई में 330 अंक क्या है?

जीआरई में 330 न्यूनतम अंक हैं, जो कि एक उम्मीदवार को प्राप्त करना अनिवार्य होता है जिससे वह विदेश में स्नातक और बिजनेस स्कूलों में प्रवेश पा सके। जीआरई में 330 अंकों की प्राप्ति आपके दृढ़ प्रयास को दर्शाती है, खासकर तब, जब इस प्रकार उच्च अंक प्राप्त करना बहुत ही दुर्लभ हो।

कैसे करें तैयारी?

जीआरई एक मानकीकृत परीक्षण है जो आपके मूल कौशल का परीक्षण करता है जिसे आपने स्कूल और कॉलेज में पढ़ते समय विकसित किया है। परीक्षा में 330 अंक प्राप्त करने के लिए आपको कुछ विशिष्ट कौशल में महारत हासिल करने की आवश्यकता है। आपको केवल उन रणनीतियों और तकनीकों को याद रखना होगा जिन्हें आपने अपनी पहले की शिक्षा के दौरान सीखा है और इस परीक्षा में कठिन प्रश्नों को हल करते समय उनका उपयोग करना होगा। प्रश्नों को हल करने के लिए – अच्छी तरह से तैयार रणनीतियों और पहले से अध्यन किए गए अनुमान को शामिल करना, कठिन और समय लेने वाले प्रश्नों को छोड़ देना या अंत में उन्हें हल करने का प्रयास करना, समय का सही प्रबंधन करना और 4 घंटे तक कठिन कार्य का सामना करने के लिए अपनी मानसिक क्षमता को कैसे बनाएं रखें? यह सब आपकी तैयार की गई योजना का हिस्सा होना चाहिए।

इस परीक्षा की तैयारी करते समय आपको कई सिद्धांतों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है-

1. मौखिक और मात्रात्मक अभियोग्यता

जीआरई में 330 अंक किस तरह बेहतर हैं, इस बात पर निर्भर करता है कि एक व्यक्ति ने मौखिक और मात्रात्मक अभियोग्यता में कितने प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। इन दो अनुभागों को बहुत कठिन माना जाता है और यदि सही तरीके से इन अनुभागों की तैयारी न की जाए, तो ये दोनों अनुभाग परीक्षा में 330 अंक लाने में बाधा बन सकते हैं।

कुछ परीक्षा देने वालों के लिए, गणित और मौखिक अवधारणाओं को सीखना आसान होगा, लेकिन बाकी लोगों के लिए व्यापक पाठ्यक्रम और विभिन्न प्रकार की अवधारणाओं को हल करना मुश्किल हो सकता है। इन अनुभागों में अच्छे अंक पाने के लिए कुछ चरण नीचे दिए गए हैं-

  • मौखिक, मात्रात्मकऔर परीक्षण अनुभागों को समझने के लिए, ईटीएस जनरल टेस्ट गाइड का अध्यन शुरू से अंत तक करें। मार्गदर्शिका में दिए गए सभी प्रश्नों को हल करने का प्रयास करने से मात्रात्मक में आपकी अवधारणाएं स्पष्ट हो जाएंगी।
  • इसके बाद मैनहट्टन £ 5 के साथ अभ्यास करना शुरू करें। पुस्तक, जो सबसे अच्छा स्त्रोत है और इसमें लगभग 2000 से अधिक प्रश्न हैं। 20-25 प्रश्न हल करें और फिर इनका उत्तर देखें। इससे आपको अपनी गलतियों को समझने में मदद मिलेगी और यह सुनिश्चित होगा कि आप अपने कमजोर विषय पर ध्यान दें। इस पुस्तक और अन्य मॉक टेस्टों के माध्यम से अध्यन करने से आपको उन विषयों को समझने में मदद मिलेगी जिनमें आपको अधिक जानकारी प्राप्त करने आवश्यकता है।
  • अपने कमजोर क्षेत्र से परिचित होने के बाद, मैनहट्टन पुस्तक चुनें जो आपके कमजोर क्षेत्र को मजबूत करने के लिए एक विशिष्ट विकल्प है और जिससे आपको सभी कमजोर अवधारणाओं को स्पष्ट करने में मदद मिलेगी।
  • ईटीएस परीक्षण के तरीके के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए, अपनी वर्तमान जीआरई परीक्षा से कुछ दिन पहले आधिकारिक ईटीएस मौखिक गाइड का अध्ययन करें।

 

2. विश्लेषणात्मक लेखन

यह अनुभाग आपकी संरचना और सोंचने वाली क्षमता का महत्वपूर्ण परीक्षण करता है। सभी विषय ईटीएस वेबसाइट पर उपलब्ध हैं लेकिन आधिकारिक ईटीएस मौखिक गाइड, मैनहट्टन आर सी गाइड जैसी गाइडों को पढ़ना न भूलें| इस प्रकार की गाइडआपको विभिन्न प्रकार के परीक्षणों की सामान्य संरचना का एक स्पष्टीकरण प्रदान करती है। साथ ही इस परीक्षा में उदहारण के तौर पर कुछ सैम्पल भी पढ़ें जिसमें परीक्षार्थियों को उच्च अंक मिले हो।

3. शब्दावली

शब्दावली में कुछ ऐसी अच्छी चीजे जो हमारे रोज पढ़ने से विकसित होती हैं। यहाँ पर इस अनुभाग के लिए कई ऐसी चीजें हैं, जिन्हें आपको सीखने की जरूरत है, जैसे बेसिक ग्रामर के नियम और कठिन शब्दावली। जाहिर तौर पर ये चुनौती आपको जीआरई परीक्षण में स्वीकार करनी होती हैं। इसके लिए मागूषऐप अच्छा विकल्प है, लेकिन ऐसा करने के लिए एक बेहतर तरीका है अपने फोन पर ‘क्विज़लेट’ या “मागूष जीआरईफ्लेशकार्ड्स” ऐप डाउनलोड करना।

शब्दावली किताबों को थोक में खरीदना सिर्फ अपने पैसे की बर्बादी करना है। मैनहट्टन £ 5  पुस्तक में विषय निवृत्ति प्रश्नों और सभी समतुल्य वाक्यों का अभ्यास करने के बजाय उन शब्दों की एक सूची बनाएं जिनके बारे में आप नहीं जानते हैं। इसके अलावा, उत्तरमाला के माध्यम से अपनी गलतियों को पकड़ें।

4. अभ्यास परीक्षण

मॉक टेस्ट के अभ्यास के लिए दी गई मैनहट्टन प्रेप टेस्ट श्रृंखला का संदर्भ लें। ये मॉक परीक्षण चुनौतीपूर्ण हैं और इसमें शामिल कुछ प्रश्न बहुत कठिन हैं। इसके साथ ही, आप 1 निःशुल्क कपलान टेस्ट, ईटीएस आधिकारिक गाइड में 2 परीक्षण और 2 निःशुल्क पावरप्रेप II परीक्षण का अभ्यास करने के लिए आप ईटीएस वेबसाइट से इसे डाउनलोड कर सकते हैं। एक सप्ताह में केवल एक मॉक परीक्षण हल करें। अंत के लिए पावरप्रेप सुरक्षित रखें। मॉक परीक्षणों में किसी भी शॉर्टकट का इस्तेमाल न करें।

कुछ अनुशंसित अध्ययन सामग्री

  1. जीआरई पठन-बोध को पार करने के लिए अल्टीमेट गाइड
  2. नि: शुल्क जीआरई अभ्यास परीक्षण
  3. क्रंचप्रेप 101 उच्च हाई-फ्रीक्वेंसी जीआरई वर्ड
  4. जीआरई पर विश्लेषणात्मक लेखन के लिए अडवांस गाइड
  5. ईटीएस पावरप्रेप सॉफ्टवेयर
  6. ईटीएस गणित और मौखिक गाइड
  7. ईटीएस आधिकारिक गाइड
  8. मैनहट्टन प्रेप
  9. 9. बैरॉन का जीआरई: 21 वां संस्करण
  10. मागूषजीआरई बुक

 

 

 

Summary
Article Name
जीआरई में कैसे पाएं 330 अंक?
Author
Description
इन दो वर्गों को बहुत कठिन माना जाता है और यदि सही तरीके से इन वर्गों की तैयारी न की जाए, तो ये दोनों वर्ग परीक्षा में 330अंक लाने में बाधा बन सकते हैं।और जानने के लिए पढ़ें