Home / Food / भारत के दस शहरों के स्ट्रीट फूड की झलक

भारत के दस शहरों के स्ट्रीट फूड की झलक

November 30, 2017
by


Please login to rate

भारत के दस शहरों के स्ट्रीट फूड की झलक

हमारा राष्ट्र विभिन्न तरह के पौष्टिक भोजन बनाने की कला में महारत हासिल कर चुका है। यदि हम अच्छा भोजन नहीं खाते हैं, तो न ही हम कुछ अच्छा सोच सकते हैं और न ही कुछ अच्छी तरह से कर सकते हैं। खाद्य पदार्थों का सीधा ताल्लुक भूख से है। स्ट्रीट फूड विशेष रूप से सड़कों किनारे खाया जाने वाला खाना होता है। लगभग हमारी सभी गतिविधियाँ, हमारे भोजन पर निर्भर करती हैं और फास्ट फूड हमारी पाचन क्रिया को कमजोर कर देते हैं।

भारत निःसंदेह उन लोगों के लिए स्वर्ग है, जो भोजन को पसंद और प्यार करते हैं। गर्म और मसालेदार स्ट्रीट फूड छोटे आकार की एक खुशी की गठरी है। ऐसा नहीं है कि यह हमें हतोत्साहित करते हैं, लेकिन स्ट्रीट फूड (सड़क के भोजन) और स्वास्थ्य रक्षा एक मटर की फली के दो पहलू हैं। यहाँ पर स्ट्रीट फूड के बारे में कुछ उत्कृष्ट बाते हैं, जो हमें फास्ट फूड रेस्तरां में खाने-पीने की योजना बनाने या खाने के विचार से दूर रहने के लिए प्रेरित करती हैं।

कई परिवार सप्ताहांत सैर या एक दिवसीय सैर के दौरान फास्ट फूड रेस्तरां में भोजन करना पसंद करते हैं और कुछ व्यंजनों को खाकर सुस्ती महसूस होती है। खरीददारी के दौरान भी हमारी लालसा कुछ अलग प्रकार के व्यंजनों को खाने की होती है। यहाँ पर कर्नाटक की इडली और मणिपुर के इरोम्बा जैसे भूख को जागृत करने वाले भारत के शीर्ष दस स्थानों के स्ट्रीट फूड के बारे में बताया गया है।

दिल्ली

पुरानी दिल्ली की सड़कों के किनारे बिकने वाला रसीला कबाब, तेलीय पराठा, कुरकुरे गोलगप्पे, रसदार जलेबी और चटकारे लेकर खाई जाने वाली चाट काफी लोकप्रिय है। राजधानी शहर दिल्ली उत्तरी भारत के सबसे प्रचलित व्यंजन छोले भटूरे और राजमा चावल की भी पेशकश करती है। प्रसिद्ध चांदनी चौक के अलावा, मेट्रो लाइन के किनारे बने ढाबे, कनॉट प्लेस की सड़कों के किनारे लगे स्टॉल (ठेले) और दिल्लीहाट के क्षेत्रीय स्टॉलों की विविधता को कोई भी भूलना नहीं चाहेगा।

कोलकाता

सिटी ऑफ जॉय कोलकाता को आश्चर्यजनक रूप से सस्ते और स्वादिष्ट स्ट्रीट फूड के लिए भी जाना जाता है। कोलकाता कभी न खत्म होने वाले पाक-व्यंजनों जैसे, हर जगह प्रसिद्ध काठी रोल और मुँह में पानी लाने वाली बंगाली मिठाई झलमुरी और सन्देश की सूची का संग्रहकर्ता है। गर्म झलमुरी और स्वादिष्ट पुचका का स्वाद आपको आनंदित कर देगा। जबकि हिल्सा और भेट की मछली आपकी भूख को जागृत कर देती है। जब आप पार्क स्ट्रीट (पार्क की सड़कों) या न्यू मार्केट के आसपास घूम रहे हों, तो आप वहाँ के मटन चाप, कई प्रकार के कटलेट, रोल, और अन्य खाद्य व्यंजनों का भी आनंद ले सकते हैं।

स्ट्रीट फूड

लखनऊ

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ शाकाहारियों और मांशाहारियों के लिए कई तरह के भोजन विकल्पों को पेश करती है। लखनऊ के प्रसिद्ध व्यंजनों में कुछ मनोरम गलौटी कबाब, कोरमा और शीर माल हैं। भेड़ के बच्चे के कीमे से बनाया गया टुंडे कबाब और प्रसिद्ध बिरयानी हजरतगंज क्षेत्र में चौक का प्रसिद्ध व्यंजन है। बाद में कुल्फी और मीठे बनारसी पान के स्वाद का आनंद लेना न भूलें। इस प्रकार मांस खाने वालों के लिए यह शहर मेक्का, नवाबी और अवधी भोजन का एक केंद्र कहा जाता है।

मुंबई

मुंबई के दो प्रसिद्ध स्ट्रीट फूड विक्रेता के नाम (मानसून और बीएमसी ट्रक) और दो पसंदीदा ज्ञात सामग्री लहसुन और प्याज हैं। मुंबई की सभी जगहों पर, आप खुद को संतुष्ट करने योग्य पाव को खोज लेते हैं। अदरक, मसाला चाय (स्टारबक्स को छोड़कर) के साथ मुलायम और कुरकुरा वड़ा पाव (बर्गर का भारतीय संस्करण) मुंबई की स्ट्रीट फूड की दुकानों में आसानी से उपलब्ध होता है। आप सुप्रसिद्ध जुहू चौपाटी समुद्र तट पर या फिर नरीमन पॉइंट पर सूर्यास्त को देखते हुए वड़ा पाव का आनंद ले सकते हैं। उल्लेखनीय अभिनेता अमरीश पुरी के अलावा, यह शहर पानीपुरी, भेलपुरी, सेवपुरी, दहीपुरी और रगड़ा पैटीज के लिए प्रसिद्ध है। मिसल पाव यहाँ का एक और लोकप्रिय भोजन है, जो निश्चित रूप से आपकी स्वाद कलियों को संतुष्ट करने के लिए काफी है।

अमृतसर

स्वर्ण मंदिर और वाघा बार्डर के अतिरिक्त अमृतसर खाद्य पदार्थों के लिए भी प्रसिद्ध है। अमृतसर में अमृतसरी कुल्चा और लस्सी का गिलास पंजाबी व्यंजनों के रूप में पेश किए जाते हैं और यह काफी मशहूर भी है। शहर में सड़क के किनारे मक्के की रोटी, सरसों का साग और माह की दाल बेचने वाले के पास बहुत ज्यादा भीड़ इकट्ठा होती है। मांसाहारी व्यंजनों में चिकन टिक्का, बटर चिकन और मटन चाप प्रसिद्ध हैं। यह शहर गाजर के हलवे और लस्सी (शीर्ष पर केसर रखा हुआ) के लिए भी मानक रूप में जाना जाता है और यह व्यंजन किसी भी फ्रांसीसी क्रीमब्रूली के स्वाद से कहीं ज्यादा स्वादिष्ट होते हैं।

हैदराबाद

हैदराबाद अपनी निजामी तहजीब के कारण दुनिया भर में मशहूर है, यह निजामों का शहर भारत के अन्य शहरों की तरह ही स्वादिष्ट व्यंजनों की सूची को दर्शाता है। मुगलई, तुर्की और आंध्र की पाक कला के मिश्रण का स्वाद मुँह में बर्फ की तरह और पेंटिंग में पानी वाले रंग की तरह पिघलता है। हैदराबाद के सुल्तान बाजार और नेकलेस रोड की गलियों की दम बिरयानी या चकना को मुख्य व्यंजन माना जाता है। ईरानी चाय और हैदराबादी नान के मसाला डोसा और समोसा में से किसी भी व्यंजन का आप एक महीने तक उपभोग कर सकते हैं।

अहमदाबाद

यह एक सार्वभौमिक सत्य है कि गुजराती लोग बाहर का खाना पसंद करते हैं। लेकिन क्या लखनऊ मांसाहारियों के लिए और अहमदाबाद शाकाहारियों के लिए है। अहमदाबाद में सड़क किनारे ज्यादा कैलोरी से भरपूर भोजन देखने को मिलते हैं, जिसके कारण यहाँ के व्यंजन सुपाच्य आहार का पर्याय बन चुके हैं। दुनिया को यह जानने की आवश्यकता है कि यहाँ कुरकुरा खाखरा, फाफड़ा, थेपला और मठरी के अलावा भी कई अन्य व्यंजनों के विकल्प हैं। यहाँ सीजी रोड से लेकर मुंशीपल मार्केट तक स्वादिष्ट दाबेली और ढोकला से मलाईदार बांसुरी तक और स्वादिष्ट चाट जैसे विभिन्न व्यंजन हैं, जो समाप्त होने का नाम ही नहीं लेते हैं। गुजरात का हर व्यंजन मीठा नहीं होता है, खमण और कुरकुरा गोटा या पकोरा (खट्टी मीठी कढ़ी के साथ) का स्वाद चखकर आप इस राज्य को पसंद करने लगेंगे।

स्ट्रीट फूड

इंदौर

इंदौर को मध्य भारत के खाद्य पदार्थों की राजधानी माना जाता है। इंदौर के आस-पास के शहरों रतलाम और भोपाल शहर की पाक-कला काफी प्रभाव पूर्ण है। जौहरियों की प्रसिद्ध सर्राफा बाजार, अब एक खाद्य बाजार के रूप में जानी जाती है। सड़क के किनारे लगे स्टाल और मिठाई विक्रेता ताजे बनाए गए गुलाबजामुन, रबड़ी, कलाकंद और मालपुआ जैसे व्यंजनों की पेशकश करते हैं। मध्य प्रदेश में नमकीन के साथ पोहा और जलेबी को मुख्य नाश्ते के रूप में प्रयोग में लाया जाता है। इसके अलावा कचौरी, टिक्की और भुट्टे का कीस इंदौर के प्रसिद्ध व्यजंन हैं।

चेन्नई

दक्षिण भारत में उपलब्ध होने वाले सभी नाश्ते के विकल्पों में से कोई व्यक्ति अचार से कैसे वंचित रह सकता है? केले के पत्ते पर नारियल की चटनी के साथ सादा डोसा दक्षिण भारत के लोगों का अत्यंत प्रसिद्ध व्यंजन है। चटनी के साथ उत्तपम और रसम चेन्नई के प्रामाणिक स्ट्रीट फूड हैं। चाहे वह मलाई कर्पेगंबल मेस फिल्टर कॉफी हो या इलियट समुद्र तट (बीच) के सुंडल और भज्जीया सांभर के साथ परोसा गया पोंगल हो, चेन्नई के भोजन को आप अनदेखा नहीं कर सकते हैं। चेन्नई में लच्छेदार और कुरकुरे मुरुक्कस, स्वाद युक्त मोहिंगा और कोथू पराठा जैसे व्यंजन व्यापक रूप से उपलब्ध हैं।

शिलांग

मेघालय के स्ट्रीट फूड (सड़कों के किनारे बिकने वाला भोजन) की शानदार सूची लोगों को काफी लुभाती है। यद्यपि पूर्वोत्तर के मोमोज, भुना हुआ सुअर का माँस और पसलियाँ आदि जैसे व्यंजन अब देश भर में सर्वव्यापी है और यह व्यंजन शिलांग के मुख्य नाश्ते के रूप में प्रसिद्ध है। जदोह शिलांग का खास व्यंजन है, शहर के लोग इस व्यंजन का व्यापक रूप से उपभोग करते हैं। शिलांग के पुलिस बाजार में रमणीय केक और पेस्ट्री बनाने की समृद्ध परंपरा है और इसे मिठाई की हंडिया के रूप में भी जाना जाता है। इसके अलावा, पुडुचेरी के फ्रेंचाई व्यंजन, राजस्थान का मिर्ची वडा, गोवा के समुद्री भोजन (सी-फूड) और लद्दाख और सिक्किम के तिब्बती व्यंजन पर मरने वाले लोगों के लिए स्वर्ग जैसा हैं।

तो आपने इनमें से कितने खाद्य पदार्थों का स्वाद चखने का प्रयास किया है?