Home / India / विश्व के सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डों को मात देने वाले भारतीय हवाईअड्डे

विश्व के सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डों को मात देने वाले भारतीय हवाईअड्डे

March 13, 2018


विश्व के सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डों

नई दिल्ली का इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा और मुंबई का छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा दोनों भारत के शीर्ष हवाई अड्डा हैं। इन दोनों ने हाल ही में विश्व के सबसे अच्छे हवाईअड्डे के रूप में शीर्ष श्रेणी हासिल करके भारत को गौरवान्वित कर दिया है। यह भारतीय हवाईअड्डे दो अलग-अलग श्रेणियों में विश्व के सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डों के बीच एक विजेताओं के रूप में उभरकर सामने आए हैं, क्योंकि इन दोनों ने इस तरह की एक व्यापक उपलब्धि को सुरक्षित करने के लिए सिंगापुर के चांगी और दक्षिण कोरिया के इनचान जैसे हवाईअड्डों को भी पीछे छोड़ दिया है।

आईजीआईए विश्व की श्रेणी में सबसे ऊपर

इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा (आईजीआईए) का प्रबंधन दिल्ली इंटरनेशनल लिमिटेड (डीआईएल) द्वारा किया जाता है, जो कि जीएमआर समूह की अगुवाई में भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण के साथ साझेदारी करता है और यह भारत के प्रमुख हवाईअड्डों में से एक है। दिल्ली इंटरनेशनल लिमिटेड (डीआईएल) ने वर्ष 2006 में आईजीआईए का प्रबंधन अपने हाँथों में ले लिया था और तब से यह हवाईअड्डा आधुनिक वास्तुकला के चमत्कार के रूप में परिवर्तित हो गया है। दिल्ली का आईजीआईए भारत का सबसे व्यस्त हवाईअड्डा है और वर्ष 2011 के बाद से यह कई पुरस्कारों को भी जीतने में सफल रहा है। हाल ही में 2016 में, इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा (आईजीआईए) चांगी हवाईअड्डा के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर था, जबकि उस समय इनचान पहले स्थान का दावेदार था। प्रतिवर्ष 4 करोड़ से अधिक यात्रियों द्वारा उच्चतम श्रेणी (एमपीएए) में यात्रा करने के कारण, आईजीआईए हवाईअड्डा वर्ष 2017 की एयरपोर्ट कांउसिल इंटरनेशनल-एएसक्यू की श्रेणी में प्रथम स्थान को प्राप्त किया था। वर्ष 2017 में, 6 करोड़ 35 लाख यात्रियों ने इस हवाईअड्डे के माध्यम से उड़ान भरी थी, जिसके परिणामस्वरूप दिल्ली का आईजीआई यात्रियों की संख्या में वृद्धि के मामले में इनचान, चांगी और बैंकॉक से भी आगे निकल गया है। आईजीआईए यात्रियों की संख्या में तीव्र वृद्धि के साथ-साथ एशिया का सातवाँ सबसे व्यस्त हवाईअड्डा है और विश्व के शीर्ष 20 सबसे व्यस्त हवाईअड्डों में से एक है।

मुंबई और हैदराबाद के हवाईअड्डा भी प्रतिद्वंदियों को मात दे रहें हैं

मुंबई का छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा (सीएसआईए) भारत के सबसे श्रेष्ठ हवाईअड्डों में से एक है और इसका जीवीके समूह द्वारा प्रबंधन किया जाता है, क्योंकि इस हवाई अड्डे में वर्ष 2006 में एक समान प्रबंधन बदलाव हुए थे। जीवीके – मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड, भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण और जीवीके समूह की अगुवाई वाले सहायता संघ के बीच एक पीपीपी संयुक्त उद्यम है। आईजीआईए के समान, मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा ने भी बीते वर्षों में कई पुरस्कार जीते हैं, क्योंकि इस हवाईअड्डे को स्काईट्रैक्स और एएसक्यू से विभिन्न श्रेणियों के तहत पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। इस साल हवाई अड्डे ने ग्राहकों के बेहतर अनुभव की श्रेणी में एएसक्यू पुरस्कारों में पहला स्थान हासिल करके देश को गौरवान्वित कर दिया है। 84 देशों के 34 सेवा मानकों पर एसीआई द्वारा चलाए जा रहे विश्वव्यापी कार्यक्रम में मुंबई एयरपोर्ट का चयन किया गया था। सितंबर 2014 में, इस हवाई अड्डे ने एशियाई समय में सबसे व्यस्त एयरपोर्ट होने के साथ 51 गतिविधियों का प्रबंधन करने का एक अनूठा रिकॉर्ड बनाया। वर्ष 2016 में, मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने स्काईट्रैक्स वर्ल्ड एयरपोर्ट पुरुस्कारों में ‘भारत और एशिया का सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डा’ का पुरस्कार जीता था।

हैदराबाद अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा भारतीय दल में शामिल हो गया है, क्योंकि पिछले दशक में चौथे स्थान पर रहने वाले इस हवाईअड्डे ने 5-15 एमपीएए की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डेके रूप में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। एसीआई के साथ एक कार्यक्रम के तहत हवाईअड्डे की सेवा की गुणवत्ता की(एएसक्यू) रैंकिंग की जाती है, जिसमें 34 प्रदर्शन संकेतकों पर यात्रियों से फीडबैक सर्वेक्षण जैसे कि हवाईअड्डे का उपयोग, आगमन, सुरक्षा स्क्रीनिंग, विश्रामगृह, भंडार और रेस्तरां का आयोजन होता है। 84 देशों में 42 अलग-अलग भाषाओं में हर साल 6,00,000 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया जाता है, क्योंकि विश्व के शीर्ष 100 व्यस्त हवाईअड्डे लगभग 75 प्रतिशत एएसक्यू कार्यक्रम का हिस्सा हैं।

 

सारांश
लेख का नाम – विश्व के सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डों को मात देने वाले भारतीय     हवाईअड्डे

लेखक – वैभव चक्रवर्ती

विवरण- हाल के एएसक्यू रैंकिंग में भारतीय हवाईअड्डों ने वास्तव में                       अच्छा प्रदर्शन किया है, क्योंकि मुंबई और दिल्ली के हवाईअड्डों ने शीर्ष श्रेणी प्राप्त करने में सहभागिता निभाई है।

संबंधित लेख:

2018 में यात्रा करने के लिए सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थल