Home / Travel / ‘इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल’: भारतीय विरासत और संस्कृति की खोज

‘इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल’: भारतीय विरासत और संस्कृति की खोज

February 14, 2018
by


भारत की समृद्ध विरासत और संस्कृति का पता लगाने के बारे में आप कितनी बार सोचते हैं लेकिन ऐसा करने में असमर्थ रह जाते हैं?

इस बार खुद को वॉक (टहलने) के माध्यम से अपने देश की विरासत और संस्कृति का पता लगाने का एक मौका दें।

इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल” उत्सव के बारे में

“इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल” नामक एक अखिल भारतीय कार्यक्रम का आयोजन फरवरी माह के दौरान 2 निजी संगठनों के एक संयुक्त उद्यम द्वारा किया जाता है। इस कार्यक्रम का आवरण पूरे भारत के 20 शहरों और कस्बों में होने जा रहा है। इस उत्सव के माध्यम से आप भारत की विरासत और संस्कृति को देखने में समर्थ हो पाएंगें जैसा कि यह उत्सव आपको अपने पसंदीदा शहरों के करीब लाने का वादा करता है। यह उत्सव विभिन्न श्रोताओं को प्रोत्साहित करता है और उनके शहरों और कस्बों की मूर्त और अमूर्त सांस्कृतिक विरासत का पता लगाने के लिए उन्हें सुलभ बनाता है।

सांस्कृतिक जागरूकता में यह उत्सव कैसे मदद करेगा?

इस उत्सव का उद्देश्य वर्तमान पीढ़ियों को ऐतिहासिक स्थलों और भारत की सांस्कृतिक विरासत के सौंदर्य अनुभवों को फिर से एक साथ जोड़ने का है। विरासत पर्यटन की यह पहल विषय-वस्तु पर आधारित है। यह दिली भागीदारी एवं स्थानीय समुदायों और नागरिकों की भागीदारी प्राप्त करने के लिए आयोजित किया जाता है जो कि विकास के एजेंडे को संरक्षण और बढ़ावा दे सके।

इन वॉक की थीम्स विरासत से लेकर लिंग-संबंधी मुद्दों तक होगी, जो छात्रों, यात्रियों, कॉरपोरेट टीमों और बच्चों के विशेष समूहों के पुनरुत्थान के लिए तैयार किए गए हैं। “इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल” में ऐतिहासिक स्मारकों और मंदिरों, प्रसिद्ध परिदृश्य, कला और तथा भोजन एवं समृद्ध व्यापार जैसे क्षेत्रों में वॉक (टहलने) की सुविधा होगी। वॉक उत्सव में बैठक, फिल्मों को प्रदर्शित करने वाले इंस्टामेट्स और फिल्म स्क्रीनिंग शामिल होंगी जो उपमहाद्वीप की असंख्य सामाजिक और सांस्कृतिक परंपराओं की जाँच करते हैं।

उत्तर भारत की ओर हमारे पास आगरा, अमृतसर, दिल्ली, श्रीनगर और वाराणसी जैसे शहर हैं।

दक्षिण भारत की ओर हमारे पास बैंगलौर, चेन्नई, हैदराबाद और कोच्चि जैसे शहर हैं।

पूर्व की ओर हमारे पास ईटानगर और कोलकाता हैं।

पश्चिम की ओर हमारे पास, मुंबई, अहमदाबाद, पुणे, बड़ौदा, बीकानेर, पाटन, जयपुर, जोधपुर और उदयपुर जैसे शहर हैं।

भारतीय होने के नाते, हमें अपनी संस्कृति को बनाए रखने की आवश्यकता है। सरकार और निजी एजेंसियों द्वारा आयोजित इस तरह के छोटे-छोटे अवसर हमें यह एहसास कराते हैं कि हमारे पास एक बड़ी सांस्कृतिक विविधता और विरासत है और हमें इसे सुरक्षित रखने की आवश्यकता है।

यहाँ आप यात्रा करने के लिए भारतीय शहरों की पूरी सूची प्राप्त कर सकते हैं –

आगरा

अमृतसर

दिल्ली

श्रीनगर

वाराणसी

बैंगलोर

चेन्नई

हैदराबाद

कोच्चि

ईटानगर

कोलकाता

मुंबई

अहमदाबाद

पुणे

बीकानेर

पाटन

जयपुर

जोधपुर

उदयपुर