Home / Food / शाकाहारी भोजन करने के 8 स्वास्थ्य लाभ

शाकाहारी भोजन करने के 8 स्वास्थ्य लाभ

October 5, 2018
by


Please login to rate

शाकाहारी भोजन करने के 8 स्वास्थ्य लाभ

यदि कोई वजन कम करना और स्वस्थ रहना चाहता है तो शाकाहारी भोजन को अपनाना एक निश्चित लक्ष्य हो सकता है। एक बेहतर स्वास्थ्य अनुभूति के लिए, शाकाहारी आहार को अपनाने में कोई हानि नहीं है। जैसा कि शाकाहारी आहार उच्च फाइबर, विटामिन, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम और फाइटोकेमिकल्स से युक्त होता है, इसलिए शाकाहारियों में मांसाहारियों की तुलना अधिक तन्दरुस्त रहते हैं और कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभों से भरपूर रहते हैं –

उनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

मधुमेह के खतरे को कम करना- जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोध के अनुसार, यह पुष्टि हुई है कि एक शाकाहारी आहार बहुत पौष्टिक होता है और पचने में भी आसान होता है। इसमें वसायुक्त अम्ल (फैटी एसिड) की मात्रा बहुत कम होती है जो रक्त शर्करा को नियंत्रित रखती है जिससे मधुमेह का खतरा कम हो जाता है। यह मधुमेह की बीमारी में रोकथाम के लिए महत्वपूर्ण लाभ भी प्रदान करता है और इसके बढ़ने के जोखिम को कम करता है।

उच्च फाइबर सामग्री – भोजन के उचित पाचन के लिए फाइबर ज़रूरी है। फाइबर फल और सब्जियों में उच्च मात्रा में मौजूद होता है। शरीर के चयापचय में सुधार के अलावा, यह विषाक्त पदार्थों और रसायनों, जो विकास में बाधा डालते हैं, के त्वरित उन्मूलन में मदद करता है। शाकाहारी भोजन में पानी की मात्रा आमतौर पर अधिक होती है, इसलिए वे शरीर में तरल पदार्थों को बनाए रखने में भी सहायक हैं।

रक्तचाप को नियंत्रित रखने में सहायक – शाकाहारी आहार में सोडियम और वसायुक्त अम्ल की मात्रा कम होती है। शाकाहारी भोजन कम तेल में भी पकाया जाता है जो अंततः कम रक्तचाप को बनाए रखने में मदद करता है। इसकी तुलना में, मांसाहारी भोजन अधिक तेल में पकाया जाता है, इसलिए इसमें सोडियम और फैटी एसिड की अधिक मात्रा होती है जिसके परिणामस्वरूप उच्च रक्तचाप होता है।

त्वचा की अरोग्यता को बढ़ाता है – शाकाहारी भोजन, विशेष रूप से फल और सब्जियां – विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध होती हैं। जैसा कि शाकाहारी भोजन में पानी की मात्रा होती है, इसलिए यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकाल देता है। इसके अलावा, कुछ पदार्थों को कच्चा खाया जा सकता है जो अंततः स्वस्थ त्वचा के लिए पोषक तत्वों के सेवन में सुधार करता है।

सोरायसिस के सुधार में मदद कर सकता है – सोरायसिस एक त्वचा रोग है जो त्वचा पर लाली और जलन का कारण बनता है। शाकाहारी भोजन उन लोगों के लिए फायदेमंद हो सकता है जो इससे पीड़ित हैं। फेडरल यूनिवर्सिटी ऑफ पेर्नंबुको के शोध के अनुसार, यह पाया गया है कि शाकाहारी आहार का उपभोग करने वाले लोगों ने सकारात्मक प्रभाव अनुभव किए हैं।

मनोदशा में सुधार – शाकाहारी आहार में एराकिडोनिक एसिड नामक पदार्थ का अभाव होता है जो मूड स्विंग्स और उत्तेजना से जुड़ा हुआ है। यह मांस और मछली में पाया जा सकता है। क्रोएशिया के मेडिकल रिसर्च एंड व्यावसायिक स्वास्थ्य संस्थान के अनुसार, शाकाहारियों में न्यूरोटिज्म के स्तर निम्न होते हैं वे मूड स्विंग्स को नियंत्रित रखते हैं।

शाकाहारियों में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है – व्यापक शोध के बाद यह पाया गया है कि शाकाहारी आहार में कोलेस्ट्रॉल का स्तर मांसाहारी आहार की तुलना में बहुत कम होता है जिसके कारण शाकाहारियों में कोलेस्ट्रॉल का स्तर अपेक्षाकृत कम पाया जाता है।

हृदय सम्बन्धी रोगों के खतरे को कम करता है – मांसाहारी भोजन संतृप्त वसायुक्त अम्ल (फैटी एसिड) का स्रोत होता है जो अक्सर धमनियों में अवरोध पैदा करता है। दूसरी तरफ, शाकाहारी भोजन जो फाइबर में उच्च होता है और इसमें अस्वास्थ्यकर वसा की  बहुत कम मात्रा होती है जो अंततः हृदय सम्बन्धी बीमारियों के जोखिम को कम करने में सहायक हैं।