Home / Movies / 2.0 मूवी रिव्यु

2.0 मूवी रिव्यु

November 30, 2018


Please login to rate

2.0 मूवी रिव्यु

कलाकारः रजनीकांत, अक्षय कुमार, एमी जैक्सन, सुधांशु पांडे

निर्देशकः एस. शंकर

प्रस्तुतकर्ताः ए. सुबासकरण, राजू महालिंगम

लेखकः एस. शंकर, बी. जयमोहन

सिनेमेटोग्राफीः नीरव शाह

संपादकः एंथनी

प्रोडक्शन हाउसः लाइका प्रोडक्शंस

अवधिः 2 घंटा 45 मिनट

कथानक

रजनीकांत के प्रशंसको के लिए इससे अच्छा कभी भी कुछ नहीं हो सकता। आठ साल पहले, फिल्म रोबोट ने अपनी अद्भुत कहानी, एड्रेनालाईन स्पंदित एक्शन और, बेशक रजनीकांत के शानदार प्रदर्शन ने सिनेमाघरों को हिलाकर रख दिया था।

तेजी से आगे बढ़ते हुए, निर्देशक एस. शंकर द्वारा हमारे लिए एक और शानदार पेशकश की गई है। इस बार जंग एक सनकी वैज्ञानिक के विरुद्ध नहीं बल्कि एक ऐसे इंसान के विरुद्ध है, जो हार का बदला लेने के लिए एक खतरनाक जीव में बदल जाता है। पक्षी राजन उर्फ पक्षी का किरदार सुपरस्टार अक्षय कुमार द्वारा पर्दे पर बाखूबी निभाया गया है। उनका इरादा बेहद स्पष्ट है – जो लोग सेलफोन का इस्तेमाल करके पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे हैं उन सभी को जान से मार देना, तो जाहिर सी बात है कि सेल फोन का इस्तेमाल तो सभी करते हैं।

खतरे में फंसे देश को बचाने के लिए एंट्री होती है सीगरन उर्फ वासी (रजनीकांत) की। वह मानवसदृश ह्युमनोइड रोबोट चिट्टी को फिर से जीवित करते हैं, जो पिछली फिल्म में सरकार की मदद करते हुए ध्वस्त कर दिया गया था। लेकिन इस बार चिट्टी अकेला नहीं है। खलनायक को शामिल करने की अपनी खोज में चिट्टी की सहायता नीला (एमी जैक्सन), एक और मानवसदृश ह्युमनोइड रोबोट जिसे हाल ही में वासी द्वारा बनाया गया है, के द्वारा की जाती है।

क्या चिट्टी पक्षी राजन को पराजित करने में सफल हो पाएगा या डरावना पक्षी प्राणी देश को नष्ट कर देगा? यह जानने के लिए आपको सिनेमा हाल में अपनी सीट पर अंत तक बैठे रहने पड़ेगा !

मूवी रिव्यु

कौन कहता है कि भारतीय निर्देशक साइंस-फिक्शन फिल्में बनाने में अच्छे नहीं हैं? रोबोट और अब 2.0 शानदार साइंस-फिक्शन फिल्में हैं जो शीर्ष हॉलीवुड साइंस-फिक्शन  ब्लॉकबस्टर को टक्कर देने योग्य हैं। हालांकि कथानक आपको थोड़ा सा नीरस लग सकता है, लेकिन डायरेक्शन, स्पेशल इफेक्ट्स और रजनीकांत तथा अक्षय कुमार द्वारा किया गया उल्लेखनीय प्रदर्शन फिल्म के दूसरे भाग को सुस्त व उबाऊ नहीं होने देता।

15 से ज्यादा वीएफएक्स कंपनियों ने 2.0 में अपने स्पेशल इफैक्ट्स देने में कोई कमी नही छोड़ी है और इन स्पेशल इफैक्टस की वजह से ही दर्शकों को फिल्म पसंद आने वाली है। फिल्म पूरी तरह से 3 डी में शूट की गई है। हमेशा की तरह, अक्षय कुमार और रजनीकांत ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। खलनायक के रूप में रजनी सर की एक झलक फिल्म रोबोट की तरह दिखती है (जब चिट्टी हिंसात्मक हो जाता है) और पक्षी की भूमिका में अक्षय कुमार ने इसमें चार चांद लगा दिए हैं। एक ही पर्दे पर साथ में उतरने वाले इन दो महान कलाकारों ने सिनेमाहॉल में आग लगा दी है।

हमारा फैसला

फिल्म 2.0 पूरी तरह से एक एक्शन आधारित फिल्म है और यह आपको भरपूर आनंद देने के लिए तैयार है चाहे आप रजनीकांत के प्रशंसक हों या नहीं। विशेष प्रभाव चकाचौंध कर देने वाला है और प्रदर्शन अत्यंत प्रभावशाली है। अगर आप अभी भी उलझन मे हैं कि फिल्म देखें या नहीं? यहां हम आपसे वादा कर सकते हैं – जब आप फिल्म देखते हैं तो एकमात्र दुविधा यह है कि आप अक्षय कुमार से एक बुरे पक्षी की वजह से नफरत करते हैं या इस खूबसूरत अदायगी के लिए उनसे प्यार। तो अपने हाथ में पॉपकॉर्न का लिफाफा पकड़ कर फिल्म देखने के लिए तैयार हो जाओ। यह फिल्म पूरी तरह से पैसा वसूल फिल्म है।

Summary
Reviewer
अपेक्षा दुहन
Review Date
Reviewed Item
2.0 मूवी रिव्यु
Author Rating
4