Home / Health / आँखों की देखभाल के सरल और असरदार तरीके

आँखों की देखभाल के सरल और असरदार तरीके

February 5, 2019


आँखों की देखभाल के सरल और असरदार तरीके

क्या आप आँखों की देखभाल (आई केयर) के लिए कुछ प्रयास कर चुके हैं, नहीं किया क्या? आँखें ऐसा अंग हैं जो स्वतंत्र रूप से अपने आप अपनी सफाई कर लेती हैं, सही कहा न। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप इनको बिल्कुल नज़रअंदाज ही कर दें। ये हमारे शरीर के सबसे कमजोर अंगों में से एक हैं और इन्हें उचित देखभाल की भी जरूरत होती है। आप न तो कॉन्टैक्ट लेंसों के झमेले में पड़ना चाहते और न ही अपनी खूबसूरत आँखों की सुंदरता को चश्मे से छुपाना चाहते हैं, क्या आप पसंद करते हैं ऐसा, अगर सही शब्दों में कहें तो- बिल्कुल भी नहीं। अपनी प्यारी आंखों की देखभाल करें, जिसके वे योग्य हैं और सक्रिय रूप से उनकी उचित देखभाल में संलग्न रहें, आज से ही?

यहां आपकी प्यारी आंखों को सुंदर और स्वस्थ रखने के लिए त्वरित-सहायता युक्तियां दी गई हैं।

1. अच्छा खाना

जब तक आंखों में वंशानुगत या किसी दुर्घटना से समस्या नहीं होती है, तब तक आंखों की सबसे आम समस्याएँ जो कि उम्र बढ़ने के साथ होती हैं, जैसे मोतियाबिंद और धब्बेदार अध: पतन। इसके साथ ही, आंखों का उन खाद्य पदार्थों के साथ इलाज करने में आसान होता हैं जो विटामिन सी और ई, जस्ता, ल्यूटिन और ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं। पर आप ये कैसे प्राप्त कर सकते हैं? खैर, ये सब ज्यादा मुश्किल नहीं हैं। बस आप सुनिश्चित करें कि आप नियमित रूप से हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पत्ता गोभी और पालक का सेवन करें। बीन्स, नट्स, खट्टे फल जैसे संतरा और अन्य शाकाहारी प्रोटीन स्रोत भी आपकी आंखों के लिए आश्चर्यजनक लाभ पहुंचा सकते हैं। अगर आप शाकाहारी नहीं हैं, तो आपके लिए और एक अन्य विकल्प हैं जैसे कि तैलीय मछलियां जैसे ट्यूना और सैल्मन, अंडे, सूअर का मांस और ओएस्टर का सेवन कर सकते हैं!

इसके साथ ही, क्या आप जानते हैं कि आपकी आँखों का स्वास्थ्य आपके वजन से गंभीर रूप से प्रभावित है? एक संतुलित आहार आपको यह सुनिश्चित कराता है कि आपका अधिक वजन न हो और इससे आपको टाइप 2 डायबिटीज़ का पता चलता है- जो कि वयस्कों में होने वाले अंधेपन के प्रमुख कारणों में से एक है। अपने वजन को नियंत्रण में रखने के लिए आप इन चीजों की मदद ले सकते हैं।

2. धूम्रपान छोड़ें

धूम्रपान हानिकारक है, हम सभी जानते हैं। फेफड़ों को हानि पहुँचाने वाला सिगरेट का धुंआ आपकी आँखों के स्वास्थ्य पर भी कहर बरपा रहा है। आप धूम्रपान से अंधे हो सकते हैं – यह सत्य है। धूम्रपान धीरे-धीरे रेटिना, ऑप्टिक तंत्रिका को नुकसान पहुंचाता है और आपको धीरे-धीरे कमजोर और दृष्टिहीन कर देता है। ध्यान रखें कि मोतियाबिंद और धब्बेदार अध: पतन लाइलाज है – ये ऐसी बीमारियाँ हैं जो आपको सिगरेट पीने से होती हैं। इसलिए यदि आप धूम्रपान नहीं करते हैं, तो शुरू न करें और यदि आप करते हैं, तो इस आदत को छोड़ने की कोशिश करें। कहना तो बहुत आसान है लेकिन करना बहुत ही मुश्किल होता है।

3. धूप का चश्मा पहनें

आपने उन लड़कियों को देखा है जो फैंसी सनग्लासेस (धूप के चश्मे) के बिना घर से बाहर नहीं निकलती। खैर, वे यह सब एक फैशन स्टेटमेंट की तुलना में अधिक कर रहे हैं, चाहे वे इसे जानते हों या नहीं। आपकी आँखों को अल्ट्रावॉयलट किरणों से बहुत अधिक सुरक्षा की आवश्यकता होती है। इसलिए, अगली बार जब आप अपने लिए सनग्लासेस खरीद रहे हों, तो उन रंगों की तलाश करें जो 99-100% यूवीए और यूवीबी किरणों को रोक सकते हैं। रैपराउंड ग्लास बहुत अच्छे लगते हैं और आपकी आँखों की रक्षा करते हैं। और यदि आप ड्राइव करते हैं तो यह आपकी आँखों पर पड़ने वाली सूर्य की किरणों को रोंकने का प्रयास करते हैं। ये आपकी आँखो की चकाचौंध को काफी हद तक कम कर देते हैं। तो, अगली बार जब आप दोपहर की धूप में निकलें, तो अच्छे सनग्लासेस (धूप का चश्मा) लगाना और आकर्षक दिखना न भूलें।

4. आंखों की जांच नियमित रूप से करवाएं

माना कि यह लोकप्रिय नहीं है, लेकिन जिस तरह से व्यक्ति को अपने शरीर की नियमित जाँच के लिए चिकित्सक या दांत के लिए दंत चिकित्सक की आवश्यकता होती है उसी प्रकार से आँखों के लिए एक नेत्र चिकित्सक (नेत्र रोग विशेषज्ञ या ऑप्टोमेट्रिस्ट) महत्वपूर्ण है। पूरी तरह से आंखों की जांच से ग्लूकोमा जैसी बीमारियों का समय पर निदान हो सकता है, जिसमें कोई स्पष्ट लक्षण नहीं होते हैं।

आंखों की नियमित रूप से जाँच आपको बेहतर तरीके से देखने और आंखों की रक्षा करने में मदद कर सकती है। ए नार्मल आई चेक-अप सेशन में परिवार और व्यक्तिगत मेडिकल हिस्ट्री की चर्चा शामिल हो सकती है, इसके अलावा दृष्टि परीक्षण, ऑप्टिक नर्व टेस्ट और यहां तक कि बाद में दोनों आंखों की जाँच भी होती है। यदि आप इन आई हेल्थ केयर सेशन #एफओएमओ को नहीं अपना रहे हैं तो आप इससे वंचित रह जाएंगे।

5. लंबे समय तक कंप्यूटर और फोन के प्रयोग से बचें

शायद यह सब हमारे लिए एक कठिन काम है और हम सभी इसके लिए दोषी हैं। लेकिन यह समय की मांग और आवश्यकता भी है। ड्राई आई, धुंधली दृष्टि, सिरदर्द ऐसी समस्याएं जिनसे हम सभी परिचित हैं। लेकिन, आप इन समस्याओं के प्रभाव को कम कर सकते हैं। ट्रिपल 20 नियम का पालन करें। हर 20 मिनट के बाद, अपनी आँखों को आराम दें और 20 सेकंड के लिए 20 फीट दूर देखें। और, कभी भी आपको ऐसा लगे कि स्क्रीन को देखने के दौरान आपकी आँखें ड्राई हो रही हैं तो शीघ्र झपकी लें और यह समस्या अपने आप खत्म हो जाएगी। और, यहाँ एक आसान सा उपाय है। अपने मोबाइल या कम्प्यूटर स्क्रीन को समायोजित करें ताकि आपकी आँखें उसके शीर्ष स्तर पर हों। इस तरह आपको कभी-कभार ही स्क्रीन पर नीचे देखना पड़ता है। शीघ्रता से आँखे खोलने ओर बंद करने के लिए आंतरिक अनुस्मारक की कोई आवश्यकता नहीं है। जो बिल्कुल सही है? और आपकी आँखों के लिए बेहतर होगा कि आप अपने कंप्यूटर पर कार्य करते समय चश्में का उपयोग करें। क्योंकि हम अभी स्मार्टफ़ोन और कंप्यूटर के ‘आवश्यक बुराई’ से भाग नहीं सकते हैं। और, वास्तव में आपको दुनिया काफी खूबसूरत दिखेगी।

अब, आपको पूरे तरीके से जानकारी मिल चुकी है, हो सकता है कि आप अपनी आंखों के स्वास्थ्य के प्रति अधिक सावधान रहने लगें। आपकी आँखे अनमोल हैं और उनकी उचित तरह से देख-भाल की जानी चाहिंए।

 

Summary
Article Name
आँखों की देखभाल के सरल और असरदार तरीके
Author
Description
आपकी आँखें शरीर के सबसे कमजोर अंगों में से एक हैं और इन्हें उचित देखभाल की भी जरूरत होती है। यह लेख चर्चा करता है कि आप आँखों की देखभाल कैसे सुनिश्चित कर सकते हैं।