Home / Health / युवा बने रहने के लिए जरूरी है निद्रावस्था की सही मुद्रा

युवा बने रहने के लिए जरूरी है निद्रावस्था की सही मुद्रा

January 4, 2019


Please login to rate

क्या आप निद्रावस्था की सही मुद्रा के बारे में जानते हैं?

बहुत से लोगों के लिए नींद लेना सबसे सुखद समय होता है। सभी चिंताओं को भूलकर, जीवन के भरमजाल से बचकर और पूरी तरह से अलग दुनिया में प्रवेश करते हुए क्या एक गहरी नींद लेने का विचार सही नहीं है? आप नींद से प्यार करें या नहीं, यह दिन का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। इससे आपके शरीर को आराम करने, कोशिकाओं की मरम्मत करने और प्रतिरक्षा प्रणाली पर काम करने का समय मलता है। लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि नींद किस तरह आपकी उम्र से जुड़ी हुई है। इसके अलावा, यह न केवल नींद का समय होता है बल्कि आपकी त्वचा के स्वास्थ्य का फैसला करता है। आप कैसे सोते हैं यह भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, मुख्य रूप से आपके चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों और दाग धब्बों में। हमेशा 21 साल के युवा  की तरह कैसे दिखें साथ ही लोग आप को कैसे याद रखें? तो, आप निद्रावस्था के तरीकों के बारे में जानें।

यहां पर निद्रावस्था की 3 बुनियादी मुद्राएं हैं और हम सभी पहलुओं पर चर्चा करते हैं- अच्छे, बुरे और खतरनाक

1. पीठ के बल सोना

आइए अपनी नींद को आदर्श तरीके के साथ शुरू करें, क्योंकि हमारे सोने की स्थिति कोई सामान्य बात नहीं है। ज्यादातर स्वास्थ्य विशेषज्ञ इस बात पर जोर देते हैं। यह न केवल आपकी पीठ के लिए अच्छा है, बल्कि आपकी त्वचा के लिए भी एक ईश्वरीय-उपहार है। आइए देखें कि यह कैसे काम करता है। सबसे पहले, आप पीठ के बल सीधे लेट जाएँ जिसका मतलब है कि आप अपने चेहरे की त्वचा पर कोई दबाव नहीं डाल रहे हैं। यह वही है जो आप अनिवार्य रूप से करते हैं यदि आप एक तरफ या अपने पेट के बल लेटते हैं। आपकी त्वचा पर दबाव कम पड़ने के कारण आपकी त्वचा पर कम रेखाएं विकसित होती हैं और चेहरे की आकृति में कम परिवर्तन होता है। जिससे, अंततः आपकी त्वचा लंबे समय तक चिकनी और युवा रहेगी।

दूसरी बात, जब आप सीधे पीठ के बल सो रहे होते हैं, तो तरल पदार्थ आपकी आंखों के आसपास जमा नहीं होता हैं, लेकिन जब हम एक तरफ होकर या पेट के बल लेटते है तो ऐसा होता है। यह आपकी आंखों में सूजन आने से रोकता है। तीसरी बात, इस स्थिति में, आपका चेहरा तकिये के संपर्क में नहीं आता है, जो आपको गंदगी, जमी हुई धूल और तेल के अनावश्यक आदान-प्रदान से बचा सकता है तथा आपके चेहरे की त्वचा को भी। यह मुँहासे और जलन को बढ़ने से रोक देगा। इसके अलावा, यह एकदम सही अवस्था है जहां आप अपनी नाइट क्रीम पर विश्वास कर सकते हैं (आप जानते हैं कि त्वचा की उम्र बढ़ने से रोकने के लिए ये कितनी अच्छी हैं!) इस अवस्था में यह उसी तरह से काम करेगी जैसे कि इसको करना चाहिए। इसलिए, चित होकर सोएं और अपने युवापन को बरकरार रखें।

2. एक करवट होकर सोना

यह दूसरी स्थिति आदर्श ‘बैक पोजिशन पर सोने’ और ’आपके पेट के बल सोने’ के बीच में आती है। इस स्थिति में, आप अपने चेहरे के एक तरफ जोरदार दबाव डालते हैं। यह आपके चीकबोन को संपर्क में समतल कर देता है और सभी दबावों और घर्षण से उत्पन्न झुर्रियों का कारण बनता है। हालांकि यह सबसे फायदेमंद नींद की स्थिति नहीं है, लेकिन यह नींद की सबसे आम स्थिति है। इसलिए, यहां कुछ ऐसा है जो आप कर सकते है, यदि आप आपनी इस आदत को छोड़ नहीं सकते। सबसे पहले, अपने सोने की स्थिति को बदलते रहें। इस तरह से कोई भी पक्ष लंबे समय तक तकिया के दबाव में नहीं रहेगा। दूसरी बात, साटन या रेशम के तकिये का चयन करें और कपास वाला तकिया कभी भी प्रयोग न करें। कपास के तकिये आपकी त्वचा से नमी को चूस लेते हैं और इसे सूखा कर देते है। हम सभी जानते हैं कि सूखी त्वचा बहुत जल्द झुर्रियों के लिए कैनवास बन जाती है।

3. पेट के बल सोना

बहुत से लोग इस स्थिति में सोना पसंद करते हैं, लेकिन दुर्भाग्य से, यह सोने की सबसे खराब स्थिति है जिसे आप बंद कर सकते हैं। इस तरीके से सोने से आपका का चेहरा तकिया पर होता है, जो उस पर उच्च दबाव डालता है। इस तरह सोने से त्वचा के रोम छिद्रों में बाधा आती है। और परिणाम? मुँहासे, भरे हुआ छिद्र और सबसे खराब परिणाम होता है कि चेहरे पर रेखाएं हो जाती है। चूंकि इस स्थिति में संचलन के लिए पर्याप्त जगह नहीं है, इसलिए यह आंखों की थैलियों और सूजी आंखों के रूप में सामने आता है। इसके बारे में सोचें तो, आपके चेहरे की त्वचा और तकिये के बीच 8 घंटे का दबाव रहता है, यह आपकी खुद की त्वचा के प्रति क्रूरता है। साथ ही, यह पोजीशन आपकी पीठ के लिए भी परेशानी पैदा करती है। इस स्थिति में सोने से हर कीमत पर बचें।

क्या आप इस लेख में बताई गई किसी भी तरह की त्वचा से संबंधित समस्या से पीड़ित हैं? यदि हाँ, तो संभावना है कि आप गलत स्थिति में सो रहे हैं। सबसे अच्छे विकल्प के लिए जाने की कोशिश करें, यानी कि पीठ के बल सोना। कुछ हफ्तों के लिए इसका अभ्यास करें और परिणामों के साथ आप से वापस मिलते हैं।

Summary
Article Name
युवा बने रहने के लिए जरूरी है निद्रावस्था की सही मुद्रा
Author
Description
आपके युवापन के लिए निद्रावस्था का सीधा संबंध है। इसके अलावा, यह केवल नींद ही है जो त्वचा के स्वास्थ्य का फैसला करती है। आपकी बढ़ती उम्र व तव्चा की झुर्रियों तथा दाग मुहाँसो को खत्म करने के लिए स्लीपिंग पोजीशन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।