Home / Movies / मूवी रिव्यू : ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान

मूवी रिव्यू : ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान

November 10, 2018


Please login to rate

मूवी रिव्यूः ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान

कलाकार – अमिताभ बच्चन, आमिर खान, कैटरीना कैफ, फातिमा सना शेख, लॉयड ओवेन

निर्देशन – विजय कृष्ण आचार्य

निर्माता – आदित्य चोपड़ा

पटकथा – विजय कृष्ण आचार्य

छायांकन – मानुष नंदन

संपादक – रितेश सोनी

प्रोडक्शन हाउस – यश राज फिल्म्स

अवधि – 2 घंटा 44 मिनट

कथानक

ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान एक्टिंग से भरपूर एक फिल्म है जिसमें ब्रिटिश शासन से भारत की आजादी के लिए लड़ रहे ठगों के एक गिरोह को दिखाया गया है। फिल्म साल 1795 के दौर की कहानी बताती है जब ईस्ट इंडिया कंपनी भारत में अपना साम्राज्य फैला रही थी और तमाम रियासतों पर उनका राज हो चुका था। ठगों की अगुवाई खुदाबख्श आज़ाद (अमिताभ बच्चन) कर रहे हैं जो भारत पर औपनिवेशवाद की उम्मीद लगाए ब्रिटिशों के रास्ते में बड़ी बाधाएं पैदा कर रहे हैं। ब्रिटिश लोग बेरहम अंग्रेज कमांडर जॉन क्लाइव (लॉयड ओवेन) के आदेश के तहत ठगों का खात्मा करने का संकल्प लेते हैं ताकि वे उपमहाद्वीप पर अपनी लगातार जीत को जारी रख सकें। ठगों का खात्मा करने के लिए, अंग्रेज फिरंगी मल्लाह (आमिर खान) को नियुक्त करते हैं। मल्लाह का काम ठगों में घुसपैठ करना और अंग्रेजों के लिए खतरों का पर्दाफाश करना होता है। क्या क्लाइव कामयाब होगा और आमिर खान का फायदा उठाकर ठगों के खतरे का सामना करने में सक्षम होगा या खुदाबख्श और उसके साथी ठग देश को अंग्रेजों से छुटकारा दिला पाएंगे?

मूवी रिव्यू

ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान एक्शन, एडवेंचर और फैंटेसी का एक नशीला मिश्रण है। एक्शन से भरी यह फिल्म, 18वीं और 19वीं शताब्दी की शुरूआत में उप-महाद्वीप में सक्रिय एक ऐतिहासिक पंथ, ठगों पर आधारित है। फिल्म में नाटक (ड्रामा) और हास्य भी सही मात्रा में है जो दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देगा। अमिताभ बच्चन ने खुदाबख्श का किरदार बखूबी निभाया है, उनका किरदार काफी रहस्यमय लगता है। अंग्रेजों के मुखबिर फिरंगी मल्लाह के रूप में आमिर खान के किरदारों के लिए कुछ रंग हैं, अपने अद्भुत अभिनय कौशल से वे किरदार में बिलकुल समा गए हैं। सुरैया के रूप में कैटरीना कैफ बिलकुल कयामत लग रही हैं लेकिन फिल्म में उनको बहुत ही कम फुटेज मिली है। ज़ाफिरा के रूप में फातिमा सना शेख ने भी बहुत अच्छी कलाकारी की है।

हमारा फैसलाः

अगर आप एक्शन, एडवेंचर और फैंटेसी के शौकीन हैं तो फिल्म जरूर देखिए। फिल्म वैसे तो 2.45 घंटे की है लेकिन इतना तो पक्का है कि यह आपको काफी उत्साहित रखती है या यूँ कहा जाए कि आपको सीट पर टिकने ही नहीं देती।

सारांश
फिल्म का नाम              ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान मूवी रिव्यू

लेखिका                       हर्षिता शर्मा

 

Summary
Reviewer
हर्षिता शर्मा
Review Date
Reviewed Item
ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान मूवी रिव्यू