Home / / दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) ने अपनी बहुप्रतीक्षित प्रवेश अनुसूची की घोषणा की

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) ने अपनी बहुप्रतीक्षित प्रवेश अनुसूची की घोषणा की

June 7, 2018


Please login to rate

 

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) ने अपनी बहुप्रतीक्षित प्रवेश अनुसूची की घोषणा की

दिल्ली यूनिवर्सिटी के लगभग 60 पूर्व-स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए, राजधानी में फैले हुए लगभग 63 कॉलेजों में हो रहे ऑनलाइन पंजीकरण जल्द ही समाप्त किए जा रहे हैं जिसके बाद प्रवेश प्रकिया शुरू होने जा रही है। इस वर्ष प्रस्तावित सीटों की कुल संख्या लगभग 56,000 है, जिसमें नए पाठ्यक्रम शुरू किए जाने के कारण नई सीटों को जोड़ा गया है।

पिछले साल 3.38 लाख छात्रों ने प्रवेश के लिए आवेदन किया था। इस साल आवेदकों की संख्या अधिक होने की उम्मीद है। रेगुलर स्नातक के पाठ्यक्रमों का चयन, इण्टरमीडिएट की परीक्षाओं में प्राप्तांको के आधार पर होगा। हालांकि सीबीएसई मॉडरेशन की प्रणाली से अलग है, लेकिन “डीयू” में प्रवेश के लिए एक या दो प्रतिशत अंकों की कटौती होने की उम्मीद है।

ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया से संबंधित पूरी जानकारी यहाँ उपलब्ध है

प्रवेश प्रक्रिया

  • ऑनलाइन पंजीकरण शुरू होने की तिथिः 15 मई 2018 (मंगलवार)
  • ऑनलाइन पंजीकरण की अंतिम तिथिः 07 जून 2018 (गुरूवार)
  • पहली प्रवेश सूची की घोषणाः 19 जून 2018 (मंगलवार)
  • दूसरी प्रवेश सूची की घोषणाः 25 जून 2018 (सोमवार)
  • तीसरी प्रवेश सूची की घोषणा: 30 जून (शनिवार) 2018
  • चौथी प्रवेश सूची की घोषणा: 6 जुलाई (शुक्रवार) 2018
  • 5 वीं प्रवेश सूची की घोषणा: 12 जुलाई (गुरुवार), 2018
  • कक्षाएं 20 जुलाई (शुक्रवार) 2018 से प्रारंभ होंगी:
  • प्रवेश समाप्त होने की तिथिः 16 अगस्त 2018 (गुरूवार)
  • पूर्वस्नातक पाठ्यक्रम के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुल्क (नॉन-रिफन्डेबल)
  • सामान्य और ओबीसी श्रेणी के छात्रों के लिए: 150.00 रुपये
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / पीडब्ल्यूडी छात्रों के लिए: 75.00 रुपये
  • खेल और अतिरिक्त सूची से सम्बन्धित कोटा छात्रों के लिएः 100 रुपये

नोटः इस वर्ष खेल कोटे के छात्रों को एक सामान्य फिटनेस टेस्ट के अतिरिक्त एक विशिष्ट खेल फिटनेस टेस्ट देना होगा। इसके अलावा, खेल परीक्षणों की भारिता 50% से बढ़कर 60% हो जाएगी।

पंजीकरण के दौरान अपलोड किए जाने वाले दस्तावेजों की सूची

  • इण्टरमीडिएट अंक-पत्र की स्व-प्रमाणित प्रतिलिपि (यदि परिणाम घोषित किया गया है)
  • हाईस्कूल अंक-पत्र की स्व-प्रमाणित प्रतिलिपि
  • आवेदक के हस्ताक्षर
  • पासपोर्ट आकार की फोटो
  • एससी/एसटी/ओबीसी आदि को विशेष श्रेणी की स्थिति की स्व-प्रमाणित प्रतिलिपि (यदि लागू हो तो)
  • खेल और अतिरिक्त सूची क्रियाकलापों के लिए विशेष श्रेणी की स्थिति की स्व-प्रमाणित प्रतिलिपि (यदि लागू हो तो)

नोटः यदि अंक-पत्र जारी नहीं किया गया है, तो विद्यार्थी संबंधित बोर्ड की वेबसाइट से अंक पत्र डाउनलोड कर सकते हैं और स्व-प्रमाणित प्रतिलिपि अपलोड कर सकते हैं।

ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया की नई सुविधाएँ

पिछले वर्षों के विपरीत, छात्र प्रवेश की अंतिम तिथि से पहले, पंजीकरण के किसी भी समय पर अपने आवेदन पत्र और पाठ्यक्रम में परिवर्तन करने में सक्षम हो जाएंगे।

इस वर्ष की शुरुआत में एक और नई विशेषता को शामिल किया गया है, जिससे छात्रों को अपने प्रवेश शुल्क को समायोजित करने में मदद मिलेगी, छात्र द्वारा चयनित कॉलेज में प्रवेश शुल्क जमा करने के बाद, दूसरे कॉलेज में शुल्क स्थानांतरित करना आसान हो जाएगा।

 उदाहरण के लिए, अगर छात्र ने कॉलेज ए में 10,000 रुपये के शुल्क का भुगतान किया है, लेकिन उसने कॉलेज बी में स्थानांतरित करने का फैसला किया है, जहाँ शुल्क 12,000 रुपये है, तो छात्र केवल ऑनलाइन में बदलाव करके और कॉलेज बी को 2,000 रुपये की अंतर राशि का शुल्क भुगतान करके राशि को समायोजित कर सकता है।

निम्नलिखित पाठ्यक्रम की 1,600 सीटों के प्रस्ताव के लिए एक प्रवेश परीक्षा की आवश्यकता होगी

बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (वित्तीय निवेश विश्लेषण)

  • बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (बी.एम.एस)
  • बी.ए. (आनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स
  • बी.ए. (आनर्स) मानविकी और सामाजिक विज्ञान
  • बी.एल.एड. बैचलर ऑफ इलेमेन्ट्री एजूकेशन
  • बी.एस.सी (पी.ई.एच.एण्ड एस) बैचलर ऑफ साइंस इन फिजिकल एजूकेशन, हेल्थ एजूकेशन एण्ड स्पोर्ट्स
  • बी.ए (ऑनर्स) मल्टीमीडिया और मास कम्युनिकेशन
  • बी.टेक (सूचना प्रौद्योगिकी और गणितीय खोज)
  • बी.ए. (ऑनर्स) संगीत

ऑनलाइन पंजीकरण के लिए कृपया www.ug.du.ac.in पर लॉग ऑन करें।

इस वर्ष शुरू किए जाने वाले नए पाठ्यक्रम

इस साल बीस नए पाठ्यक्रम शुरू किए जा रहे हैं। कुछ नए पाठ्यक्रमों में शामिल हैं-

  • बी.एस.सी (ऑनर्स) मैथमेटिक्स
  • बी.एस.सी (ऑनर्स) कम्प्यूटर साइंस

डीयू में आवेदन करने वाले छात्रों को सलाह

3.8 लाख से अधिक आवेदकों के लिए केवल 55,000 सीटें ही उपलब्ध हैं। साथ ही डीयू के कुछ लोकप्रिय कॉलेजों में प्रवेश के लिए बहुत बड़ी मांग है। इसी वजह से इन कॉलेजों में प्रवेश पाने में विफल रहने वाले छात्रों में निराशा और असफलता की भावना पैदा होती है। कृपया याद रखें, डीयू में प्रवेश लेने से ज्यादा आवश्यक है कि आप अपने पसंदीदा कोर्स का चयन करें, जिसका आप अध्ययन करते हैं।

छात्रों को ध्यान रखना चाहिए कि जीवन एक लंबी यात्रा है और आपकी शैक्षणिक डिग्री एक सफल कैरियर की शुरूआत के लिए पहला कदम है। यह महत्वपूर्ण नहीं है कि आप किस संस्थान में पढ़ रहे हैं बल्कि यह अधिक महत्वपूर्ण है कि आपने अपनी सीख का उपयोग कितना अधिक किया है। यह विचारधारा आपकी नौकरी के दौरान साक्षात्कार प्रक्रिया उजागर कर सकती है, जिसमें आप अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद भाग लेंगे।

इसलिए किसी भी डीयू कॉलेज में प्रवेश पाने पर ध्यान केंद्रित करना बेहतर है, लेकिन जिसे आप चाहते हैं उस पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए, अपने अध्ययन में कॉलेज के ब्राँड नाम के बारे में चिंता करने की बजाय अपने जीवन में आगे बढ़ने की अपनी क्षमता पर विश्वास करें।

प्रवेश प्रक्रिया के लिए शुभकामनाएँ।

सारांश
लेख का नामः दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) ने अपनी बहुप्रतीक्षित प्रवेश अनुसूची की घोषणा की

लेखक का नामः देबू सी

विवरणः दिल्ली यूनिवर्सिटी राजधानी के 63 महाविद्यालयों में लगभग 60 पूर्व-स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए ऑनलाइन पंजीकरण स्वीकार करना शुरू करेगी। पहली कट ऑफ सूची विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 19 जून, 2018 को जारी होगी।