Home / / भारत में , मुंबई प्रवासियों के लिए सबसे महंगा शहर

भारत में , मुंबई प्रवासियों के लिए सबसे महंगा शहर

June 27, 2017


Please login to rate

mumbai-is-the-most-expensive-city-of-India-hindiमर्सर के जीवन यापन की लागत के वार्षिक सर्वेक्षण के अनुसार, भारत की वित्तीय राजधानी मुंबई प्रवासियों के लिए सबसे महँगी है। मुंबई विश्व के 57 वें सबसे महंगे शहर के रूप में शुमार है, जबकि दिल्ली 99 वें से 100 वें महंगे शहर के वर्गों में प्रवेश कर गई है।

पाठक के लिए चीजों को संदर्भ में रखने की रैंकिंग के अनुसार, मुंबई ऑकलैंड (61), पेरिस (62), कैनबरा (71), सिएटल (76) और विएना (78) की तुलना में प्रवासियों के लिए सबसे महँगी है।

मर्सर विदेशों में काम करने के लिए भेजे गए कर्मचारियों के लिए जीविका और आवास की लागत पर डेटा का अग्रणी प्रदाता है। जहाँ 200 से अधिक प्रचलित नियत कार्य गंतव्यों के लिए प्रादेशिक कर्मचारी हैं, वहाँ रहने के लिए लागत की वार्षिक क्रम सूचियां आयोजित की जाती हैं। यह प्रवासी कर्मचारियों की क्रय शक्ति के लिए एक दिशानिर्देश के रूप में कार्य करता है। बहुराष्ट्रीय कंपनियों को भी मुआवजे की भरपाई करने वाली इस क्रम सूची पर भरोसा है क्योंकि उनके कुशल व्यवसायिक जो शहर में रहने की लागत के अनुसार अंतरराष्ट्रीय कार्यभार लेते हैं, वही लोग इसमें काम कर रहे हैं।

मर्सर के हिसाब से चेन्नई 135 वें, बैंगलोर 166 वें, उसके बाद कोलकाता 184 वें स्थान पर रहा।

मुंबई महंगा क्यों है?

तेजी से आर्थिक विकास की वजह से हाल के दिनों में भारत सभी प्रवासियों के लिए अत्यधिक महंगा हो गया है जिसके परिणामस्वरूप अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया स्थिर हो गया है।

विशेष रूप से मुंबई में निम्नलिखित कारणों से सिर्फ एक वर्ष में 25 स्थानों की उछाल के साथ वर्तमान मूल्य में वृद्धि देखी गई है:

  • खासकर विमुद्रीकरण के बाद मुंबई में आवासीय संपत्ति का किराया बहुत बढ़ता जा रहा है। विमुद्रीकरण ने अचल संपत्ति की बिक्री बाजार पर प्रतिकूल प्रभाव डाला और परिणामस्वरूप कई लोगों ने संपत्ति में निवेश करने की बजाय आवासीय संपत्ति को किराये पर लेने का विकल्प चुना। इसके परिणामस्वरूप किराये में वृद्धि हुई थी।
  • भोजन और व्यक्तिगत देखभाल की वस्तुओं की कीमतों में भी वृद्धि हुई है। इस वृद्धि में विशेष रूप से पनीर, मक्खन, मछली, मांस आदि शामिल हैं।
  • मुंबई में आवागमन करना बहुत महंगा है। वास्तव में, मुंबई परिवहन क्षेत्र में टैक्सियों और ऑटो की सुविधाओं की लागत के साथ सबसे महंगा शहर है।
  • उपरोक्त कारणों से मुंबई में मुद्रास्फीति 81% से बढ़कर 5.57% हो गई।

पूरे संसार के शहरों की कुछ अन्य श्रेणियाँ

मर्सर द्वारा किए गए सर्वेक्षण के मुताबिक दुनिया के सबसे महंगे शहर मुख्य रूप से एशिया, यूरोप और अफ्रीका में केंद्रित हैं।

  • अंगोला की राजधानी लुआंडा दुनिया का सबसे महंगा शहर है।
  • हांगकांग, टोक्यो, ज्यूरिख और सिंगापुर लुआंडा के बाद सबसे महंगे शहर हैं।
  • न्यूयॉर्क शहर विश्व में नौवाँ सबसे महंगा शहर है।
  • सबसे महंगे शहरों में लंदन की श्रेणी 30 वीं है।
  • पाकिस्तान की वित्तीय राजधानी करांची को महंगे शहरों में 201 वाँ स्थान दिया गया है।

मुंबई प्रवासियों के लिए सबसे महंगे शहरों में से एक माना जाता है, वहाँ के स्थानीय लोगों पर भी यही नियम लागू है। मुंबई के नागरिकों के लिए जीवन यापन की लागत भी बढ़ गई है और हाल ही में किए गए सर्वेक्षण के अनुसार, खानपान प्रबंधन को छोड़कर एक परिवार के चार व्यक्तियों की मासिक लागत 82,284.11 भारतीय रुपये है। वास्तव में, जीविका सूचकांक की लागत के अनुसार, मुंबई बैंगलोर से 8.19% ऊपर है।