Home / Health / कुछ खाद्य पदार्थ जो आपकी किडनी के लिए हैं हानिकारक

कुछ खाद्य पदार्थ जो आपकी किडनी के लिए हैं हानिकारक

January 11, 2019


अपनी किडनी के स्वास्थ्य को गंभीरता से लें

हम अपने दिन की शुरुआत करने के दौरान, स्वास्थ्यवर्धक हरी सब्जियों से लेकर साधारण जंक फूड इन सभी चीजों का सेवन करते हैं। यह क्रिया चलती रहती है और हम हमेशा की तरह कार्य करते रहते हैं। लेकिन, क्या उन खाद्य पदार्थों में से कोई खाद्य पदार्थ आपके शरीर में जहर का काम कर रहा है? जो आपको पता नहीं चल पाता, लेकिन धीरे-धीरे इससे काफी नुकसान पहुँचने लगता है, खासकर आपकी किडनी को। जाहिर तौर पर, किडनी को नुकसान पहुंचाने वाले कई खाद्य पदार्थ हैं, जो हमारे दैनिक आहार का हिस्सा हैं, जो किडनी को कमजोर कर देते हैं और यह समय के साथ-साथ कार्य करना बन्द कर देती है। आइए उन सभी खाद्य पदार्थों पर नजर डालें और उनका कम से कम सेवन करें, यदि आप उनसे पूरी तरह से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो।

1.मूंगफली

मुझे पता है कि यह सामान्य रूप से स्वास्थ्य के प्रति उत्साही और मूंगफली प्रेमियों दोनों के लिए पसंदीदा है। इसके पोषण लाभ की सूची भी लंबी है। लेकिन कई बार मूंगफली आपके लिए बुरी खबर भी हो सकती है, विशेष रूप से उनके लिए जिनकी किडनी कमजोर होती है। मूंगफली में ऑक्सालेट्स होता है – ऐसा पदार्थ जिसके खाने से गुर्दे की पथरी (किडनी स्टोन) जैसी बीमारी हो सकती है। हालांकि सभी तरह के स्टोन्स नहीं। लेकिन, नेशनल किडनी फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार यह कैल्शियम ऑक्सालेट गुर्दे की पथरी है, जो सामान्य तौर पर बड़े आकार  की होती है। और ऐसे मामले में यदि आप ऐसे ही किडनी स्टोन्स (गुर्दे की पथरी) की बीमारी से जूझ रहे हैं तो इन चीजों को खाने से बचें। और, हां, उन लोगों को भी इसके कम सेवन की सलाह दी जाती है, जो मानते हैं कि उनकी किडनी ठीक है।

2. एवोकैडो

एक और आश्चर्य। क्या इस फल की हर कोई, हमारे हृदय, आंखों और त्वचा पर इसके महान प्रभाव, के लिए प्रशंसा नहीं करता है? खैर, यह फल अनेक गुणों से भरपूर है। इस फल से आपको बहुत सारा पोटैशियम प्राप्त होता है। जाहिर तौर पर, थोड़ा बहुत। जो लोग पहले से ही किडनी की बीमारी से जूझ रहे हैं, वह पूरी तरह से इस फल को खाने से बचें। पोटेशियम के साथ-साथ सोडियम सही अनुपात में किडनी के सुचारु रूप से कार्य करने में महत्वपूर्ण है। दोनों में से किसी का भी थोड़ा सा असंतुलन होने पर यह आपकी किडनी के लिए खतरनाक हो सकता है। हाइपरकेलेमिया – यह उस बीमारी का नाम है जो आपके रक्त में पोटेशियम की अधिकता होने पर होती है। हृदय गति धीमी होना, सुन्नता, कमजोरी और जी मिचलाना इसके सामान्य लक्षण हैं।

उन लोगों के लिए सबसे अच्छी सलाह जो किडनी की ऐसी स्थिति को पहचान नहीं पाते हैं, उनको इस स्वादिष्ट फल को कम मात्रा में लेना है।

3. डिब्बाबंद सब्जियां

क्या आपका संतुलन पोटैशियम द्वारा पहले से ही विक्षुब्ध था या फिर अब सोडियम द्वारा और गड़बड़ा गया है। डिब्बाबंद सब्जी वास्तव में आपकी किडनी को कमजोर कर सकती है। ताजा सब्जियां और यहां तक कि फ्रीज में रखी सब्जियां भी आपके स्वास्थ्य के लिए सहायक हैं। हालांकि, लोग डिब्बाबंद सब्जियों को खाने से बच रहे हैं। इनमें सोडियम का उच्च स्तर होता है जिसमें अतिरिक्त तरल पदार्थों से आपके रक्तप्रवाह को साफ करना आपकी किडनी के लिए मुश्किल हो जाता है।

फिर भी, यदि आपके पास डिब्बाबंद सब्जियों के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा है, तो सब्जियों को पानी से अच्छी तरह से धो लें, जितना हो सके उतना सोडियम निकाल दें।  फिर उन्हें पकाएं, इससे आपको कोई नुकसान नहीं पहुँचेगा।

4. कैफीन

यह उन लोगों के लिए एक झटके की तरह होगा जो अपने दिन की अच्छी शुरूआत करने के लिए सुबह की अपनी कप पर भरोसा करते हैं। चूंकि कैफीन एक मूत्रवर्धक (एक तरल पदार्थ) है, यह गुर्दे की पानी को अवशोषित करने की क्षमता को प्रभावित करता है।  हालाँकि, मॉडरेशन में, यह अपना काम पूरा करने के लिए पानी तक पहुँचने के लिए किडनी की सामर्थ्यता के साथ खिलवाड नहीं करेगी। फिर भी, शोधों से संकेत मिलता है कि लंबे समय तक कैफीन का सेवन गुर्दे की पथरी के खतरे को बढ़ा सकता है। इसके साथ ही, यह उन लोगों के लिए नुकसानदायक है, जिन्हें क्रोनिक किडनी रोग होता हैं।

इसके अलावा, अगर किसी व्यक्ति को उच्च रक्तचाप की समस्या है, तो उसे कैफीन का सेवन अच्छे से सोच समझ कर करना चाहिए।

5. नमक

यह खराब क्यों हैं, इसके बारे में अभी शुरुआत करते हैं। जब आप अतिरिक्त नमक लेते हैं, तो आपके रक्तप्रवाह में भी इसकी अधिकता हो जाती है। किडनी का काम होता है इसे संतुलित रखना। इसलिए, यह खून में नमक की एकाग्रता को बनाए रखने के लिए पानी को बरकरार रखता है। जिससे यह उस पर अनावश्यक बोझ डालता है। एक दिन के लिए, यह इसका प्रबंधन कर सकता है। दो दिन भी यह ऐसा कर सकती है। पर, जब आपका नियमित आहार ऐसा हो,  जिसमें बहुत अधिक नमक हो, तो आप व्यावहारिक रूप से गुर्दे की बीमारी की तरफ रुख कर रहे हैं।

लंबे समय की इस प्रक्रिया में भी गुर्दे के नेफ्रोन क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। कचरे को छानने के लिए ये सूक्ष्म संरचनाएं हैं। इस तरह इन्हें बहुत ही अधिक नुकसान होता है।

इसलिए, समस्या को आगे बढ़ने से रोकें और देखें कि आपको कहाँ से अनुचित मात्रा में नमक मिल सकता है। खैर, टेबल नमक से लेकर प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ तक – इन सब में बहुत ही नमक होता है। नमक जीवन का मसाला है! इससे बचना मुश्किल होगा। इसलिए हमारी सलाह है कि, ताजे खाद्य पदार्थों का प्रयोग करें और जब भी संभव हो नमक छिड़कना सीमित रखें।

6. मांस

मांस प्रोटीन का एक मुख्य स्रोत है। प्रोटीन जो मांसपेशियों के स्वास्थ्य का निर्माण करते हैं और विभिन्न विकास प्रक्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण हैं। इस सब के लिए ये बहुत अच्छा है ,पर किडनी के लिए इतना अच्छा नहीं है। जाहिर है, मांस को चयापचय करना सबसे कठिन काम है जो हमारे गुर्दे करते हैं। विशेष रूप से लीवर की तरह अंग मांस, गुर्दे पर भारी दबाव डालते हैं। इस प्रकार के मीट में प्यूरीन का भार होता है जो यूरिक एसिड के निर्माण को उत्तेजित करता है। इस एसिड को आमतौर पर किडनी द्वारा ही संसाधित किया जाता है। इसके साथ ही, यदि वे बहुत अधिक अभिभूत हैं, तो आपको गुर्दे की पथरी होने की आशंका हो सकती हैं। एक आहार जो पशु-आधारित प्रोटीन से समृद्ध होता है, वह भी पथरी के विकास के जोखिम को बढ़ाता है। यही कारण है कि आम तौर पर गुर्दे की बीमारियों वाले लोगों को उच्च प्रोटीन आहार से बचने की सलाह दी जाती है। जो लोग जीवन के लिए स्वस्थ किडनी रखना चाहते हैं, उन्हें संयमित तरीके से इन खाद्य पदार्थों को लेना चाहिए।

7. चीनी

निश्चित रूप से, चीनी दिखने में मीठी और बहुत ही अच्छी लगती है, लेकिन यह आपके जुड़वाँ गुर्दों को नुकसान पहुंचा सकती है। चीनी से मोटापा बढ़ता है। मोटापे से मधुमेह और उच्च रक्तचाप का खतरा बढ़ जाता है। इसके साथ ही, ये दोनों गुर्दे की बीमारियों के प्रमुख कारण हैं। जिन लोगों के गुर्दे खराब होते हैं, उन्हें पूरी तरह से इससे दूर रहना चाहिए। इसके साथ ही, जो लोग इस बीमारी से दूर हैं, उनके लिए यह बेहतर होगा कि वे अभी से सतर्क रहें।

प्रसंस्कृत शुगर नाश्ता अनाज, मिठाई, मसालों और सफेद ब्रेड के माध्यम से हमारे आहार में पहुँचता है। जितना हो सकें आप को इन चीजों को लेने से बचना चाहिए। हमेशा इनग्रीडिएन्ट लिस्ट को देखें जब आप पैक किए हुए खाद्य पदार्थ खरीद रहे हों और जितना संभव हो उतना चीनी से बचें। मुझे पता है कि आपके जीवन से चीनी को खत्म करना कठिन है लगभग असंभव है। लेकिन, आपको (अपनी किडनी के लिए) कोशिश करने के लिए ब्राउनी पॉइंट मिलेंगे। इसका मंत्र यह है कि कम प्रयोग करना बेहतर है।

अंत में, आपके गुर्दे को स्वस्थ रखने के लिए एक बहुत आसान शॉर्टकट है। कुछ इतना आसान जिसे हर कोई कर सकता है और करना भी चाहिए। तरीका यह है कि हाइड्रेटेड रहें। रोजाना 1.5 से 2 लीटर पानी पिएं (किडनी की समस्या वाले लोगों को छोड़कर। जिनके गुर्दों के कार्य में समस्या है उन्हें तरल पदार्थों का सेवन कम से कम करना चाहिए)। इससे गुर्दे में पथरी होने का खतरा भी हो सकता है।

अब जब आप उन खाद्य पदार्थों के बारे में इतना जानते हैं जो आपके दो बहुत महत्वपूर्ण अंगों को खराब कर सकते हैं, तो आप अगली बार इनका सेवन करने में सावधानी बरतेंगे!

उल्लिखित खाद्य पदार्थों में से कौन सा आपके आहार का एक प्रमुख हिस्सा है? हमें नीचे टिप्पणी अनुभाग में बताएं।

Summary
Article Name
कुछ खाद्य पदार्थ जो आपकी किडनी के लिए हैं हानिकारक
Author
Description
किडनी को नुकसान पहुंचाने वाले कई खाद्य पदार्थ हैं, जो हमारे दैनिक आहार का हिस्सा हैं, जो किडनी को कमजोर कर देते हैं और यह समय के साथ-साथ कार्य करना बन्द कर देती है। आइए उन सभी पर नजर डालें।